Monday, February 26, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशचुनावी रंगमंच पर धर्म का ‘तड़का’: वोटिंग के बाद भाजपा-कांग्रेस के बडे...

चुनावी रंगमंच पर धर्म का ‘तड़का’: वोटिंग के बाद भाजपा-कांग्रेस के बडे नेता-मंत्री पूजा पाठ में विलीन

राजनीति में धर्म का ‘तड़का’: भोपाल। साम, दाम, दंड, भेद और भय के जरिए राजनीति में काबिज बने रहना राजनेताओं का पुराना शगल है। बदलते दौर में अब राजनेताओं ने सियासत में धर्म का तड़का लगाने की नई जुगत बैठा ली है। यही वजह है कि विधानसभा चुनाव की बैतरणी पार करने के लिए नेताओं ने कथा के भव्य पंडाल सजाए थे। विधानसभा चुनाव से पहले मंत्री, विधायकों द्वारा शिव महापुराण, श्रीमद्भागवत कथा और श्रीराम कथा के भव्य आयोजनों क‍िए गए थे। कथा का आयोजन कराने वालों में भाजपा व कांग्रेस दोनों दलों के नेता शामिल थे। इसी क्रम में आगे बढते हुए अब मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनावों की वोटिंग के बाद प्रदेश के एक दर्जन मंत्री और भाजपा के बडे नेता पूजा पाठ में लगे हैं । इन्हें विश्वास है कि उनकी पूजा पाठ से नैयया पार लग जायेगी। यह मंत्री और बडे नेता धार्मिक स्थानों पर निकल गये हैं, तो कुछ अज्ञात वास पर हैं। जहां नियमित तौर पर अपने धार्मिक सलाहकारों की सलाह से पूजा पाठ में लगे हैं। कुल मिलाकर भाजपा की सरकार के मंत्री व बडे नेता मध्यप्रदेश में हुई बम्पर वोटिंग से मन ही मन घबरा रहे हैं, और अपने सलाहकारों की सलाह पर परिणाम अपने पक्ष में आने की संभावना पर धार्मिक स्थलों के दर्शन भी कर रहे हैं। स्वयं मंत्रियों के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पांचवी बार सरकार के रिपीट की संभावना पर पूजा पाठ कर रहे हैं। उन्होंने भी कई धार्मिक स्थलों पर दर्शन किये हैं। वहीं राज्य विधानसभा चुनावों में भाजपा को कडी टक्कर देने वाली कांग्रेस के नेता व प्रत्याशी भी अपनी जीत के लिये विभिन्न मंदिरों में मत्था टेक रहे हैं। किसी ने अपने घर अखंड रामायण तो किसी ने सुंदरकांड तक के आयोजन कराये हैं। स्वयं कमलनाथ भी अपने एक ज्योतिष व धार्मिक सलाहकार की सलाह से चल रहे हैं।

विधानसभा चुनाव से पहले भी रहा धर्म का ‘तड़का’

सबसे पहले भाजपा विधायक रमेश मेंदोला ने दिसंबर, 2021 में अपने विधानसभा क्षेत्र इंदौर-2 में पं. प्रदीप मिश्रा की शिव महापुराण कथा का आयोजन कराया था। इसके बाद कांग्रेस विधायक विशाल पटेल ने अपने विस क्षेत्र देपालपुर में, फिर कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी ने श्रावण मास में अपने विस क्षेत्र राऊ में और हाल में कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने अपने विस क्षेत्र इंदौर-1 में पं. प्रदीप मिश्रा की शिव महापुराण की कथा कराई। गृह एवं जेल मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने गत अगस्त में अपने विधानसभा क्षेत्र दतिया में बागेश्वर धाम महाराज पं. धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री के मार्गदर्शन में पार्थिव शिवलिंग निर्माण का आयोजन कराया गया था, जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु उमड़े थे। खास बात यह है कि मंत्री मिश्रा ने एक-दूसरे के विरोधी पंडोखर सरकार और बागेश्वर धाम महाराज को आयोजन के अवसर पर एक मंच पर लाकर उनका एका कर दिया था। दोनों संतों की मुलाकात सुर्खियों में रही थी। गुना से भाजपा सांसद केपी यादव ने सितंबर में अशोकनगर में पं. प्रदीप मिश्रा की शिव महापुराण कथा और पिछले दिनों नगरीय विकास एवं आवास राज्य मंत्री ओपीएस भदौरिया ने भिंड के ददरौआ धाम में बागेश्वर धाम में कथा कराई थी। कथा में मची भगदड़ में एक महिला श्रद्धालु की मौत हो गई थी। लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने अपने गृह नगर गढ़ाकोटा में 5 दिसंबर, कृषि मंत्री कमल पटेल ने अपने विस क्षेत्र हरदा में 7 दिसंबर और नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने अपने विस क्षेत्र खुरई में 9 दिसंबर को कथा कराई थी। कांग्रेस विधायक निलय डागा अपने विस क्षेत्र बैतूल में 12 दिसंबर को कथा का आयोजन कराया। प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में पंडित प्रदीप मिश्रा की शिव महापुराण की कथा कराई।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments