Saturday, May 25, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशकई दिग्गजों का भाग्य EVM में कैद, इन सीटों पर सबकी निगाहें

कई दिग्गजों का भाग्य EVM में कैद, इन सीटों पर सबकी निगाहें

भोपाल ।   मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ के अलावा केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, प्रहलाद पटेल, फग्गन सिंह कुलस्ते सहित कई दिग्गज नेताओं का सियासी भविष्य शुक्रवार को मतदान के साथ ईवीएम में कैद हो गया। भाजपा ने तीन केंद्रीय मंत्रियों के साथ लोकसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक राकेश सिंह, सांसद गणेश सिंह, उदय प्रताप सिंह, रीति पाठक और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को रणनीति के तहत चुनाव मैदान में उतारा है।  विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डा. गोविंद सिंह, अजय सिंह और जयवर्धन सिंह जैसे दिग्गज नेताओं का भविष्य भी मतदाताओं ने ईवीएम में दर्ज करा दिया है। विधानसभा चुनाव के परिणाम तीन दिसंबर को आएंगे। परिणाम के आधार पर ही प्रदेश में 16वीं विधानसभा का गठन होगा। मध्य प्रदेश विधानसभा की सभी 230 सीटों पर मतदान शुक्रवार को हो गया। ग्वालियर- चंबल में 34, बुंदेलखंड में 26, मालवांचल में 66, महाकौशल में 38, विंध्य में 30 और मध्य भारत संभाग में 36 सीटें हैं। इन सीटों पर 2,280 पुरुष, 252 महिलाएं और एक थर्ड जेंडर समेत 2533 उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतरे। भाजपा और कांग्रेस ने सभी सीटों पर उम्मीदवार उतारे, जबकि बसपा ने 181, सपा ने 69 और आम आदमी पार्टी (आप) ने 66 सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए।

ये सीटें हैं खास

बुधनी  शिवराज के सामने ‘हनुमान’ सीहोर जिले के बुधनी विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हैं। यहां शिवराज ने सुबह मतदान किया। कांग्रेस ने शिवराज के सामने इस बार चुनावी मैदान में टीवी सीरियल रामायण में हनुमान का किरदार निभाने वाले विक्रम मस्ताल को मैदान में उतारा है। पिछले चुनाव साल 2018 में बुधनी विधानसभा सीट पर शिवराज के सामने कांग्रेस ने अरुण यादव को टिकट दिया था, तब शिवराज सिंह ने उन्हें 58,999 मतों से हराया था।

छिंदवाड़ा   कमल नाथ के सामने विवेक बंटी छिंदवाड़ा विधानसभा क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ कांग्रेस प्रत्याशी हैं। यहां भाजपा ने विवेक (बंटी) साहु को प्रत्याशी बनाया। सुबह-सुबह ही कमल नाथ ने अपने गृह क्षेत्र में हनुमान जी के दर्शन किए और वोट डालकर भोपाल पहुंच गए। छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र से कमल नाथ आठ बार सांसद रहे हैं।

दतिया  प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा दतिया विधानसभा सीट राज्य के गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा की पारंपरिक सीट है। मिश्रा को कांग्रेस के राजेंद्र भारती ने इस चुनाव में कड़ी चुनौती दी है। मिश्रा ने पिछला चुनाव 2,656 वोटों से जीता था।

इंदौर  एक से विजयवर्गीय की कांग्रेस से सीधी टक्कर इंदौर-एक से भाजपा के कैलाश विजयवर्गीय और कांग्रेस के संजय शुक्ला के बीच सीधा मुकाबला हुआ है। इस सीट पर सबकी नजरें लगी हुई हैं।

इन सीटों पर तीन केंद्रीय मंत्री

दिमनी  से केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का भाग्य भी ईवीएम में कैद हो गया। तोमर की सीट पर त्रिकोणीय मुकाबला है। कांग्रेस से विधायक रविंद्र तोमर और बसपा से पूर्व विधायक बलवीर दंडोतिया मुकाबले में उतरे

नरसिंहपुर  विधानसभा सीट से केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के सामने कांग्रेस के लखन सिंह पटेल हैं।
निवास सीट से केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते और कांग्रेस के चैनसिंह वरकड़े का भाग्य भी ईवीएम में बंद हो गया।
इंदौर- एक से विजयवर्गीय की कांग्रेस से सीधी टक्कर इंदौर-एक से भाजपा के कैलाश विजयवर्गीय और कांग्रेस के संजय शुक्ला के बीच सीधा मुकाबला हुआ है। इस सीट पर सबकी नजरें लगी हुई हैं।

निवास  केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते और कांग्रेस के चैनसिंह वरकड़े का भाग्य भी ईवीएम में बंद हो गया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments