Friday, June 21, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशBhopal में छह माह के मासूम को घर से घसीटकर ले गए...

Bhopal में छह माह के मासूम को घर से घसीटकर ले गए आवारा कुत्ते, नोच-नोच कर मार डाला

Bhopal News: मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के अयोध्या नगर थाना क्षेत्र में आवारा कुत्तों ने एक मजदूर के करीब 6 माह के मासूम बच्चे को आवारा कुत्ते घर से घसीटकर ले गए और उसका एक हाथ खा गए। आवारा कुत्तों ने नवजात को कई जगह नोचा, जिससे उसकी मौत हो गई। अयोध्या नगर थाना क्षेत्र में शिव नगर बस्ती के पास रहने वाली महिला छह महीने के बच्चे को सोता हुआ छोड़ कुछ देर के लिए बाहर गई तभी आवारा कुत्ते बच्चे को घर से घसीटकर ले गए। कुत्तों ने उसे नोंच कर मार डाला। उसका एक हाथ पूरा खा गए। बच्चे के सिर और पेट समेत पूरे शरीर पर काटने के निशान थे। परिजन बच्चे को ढूंढते हुए पहुंचे और लहूलुहान हालत में उसका शव मिला।

एसीपी अक्षय चौधरी ने बताया

एसीपी अक्षय चौधरी ने बताया कि मूलत: गुना जिले का एक मजदूर महेंद्र वाल्मीकि अपने परिवार के साथ छावनी पठार बिलखिरिया में रहता है। इन दिनों महेंद्र व उसकी पत्नी मिनाल रेसीडेंसी इलाके के गेट नंबर चार के पास साफ-सफाई का काम करते हैं। गुरुवार को दोनों यहां पर काम करने के लिए पहुंचे थे। सुबह करीब 10 बजे उसने बच्चे को दूध पिलाने के बाद जमीन पर लिटा दिया। कुछ देर बाद देखा तो बच्चा गायब था। इसी दौरान बच्चे को उसके घर से कुत्ते घसीटकर ले गए। मां जब वापस आई तो बच्चे को न देख चौंकी तथा तुरंत ही अपने पति को घर बुला लिया। इसके बाद मोहल्ले के लोगों ने बच्चे की तलाश शुरू कर दी। थोड़ी ही दूरी पर बच्चा तो मिल गया लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। उसके शरीर पर नोंचने के निशान थे। कुत्ते उसका एक हाथ पूरी तरह से खा गए थे।

शव को आज निकालेगी पुलिस

बच्चे की मौत के बाद उसके माता-पिता सदमे में थे साथ ही डरे हुए भी। इसलिए उन्होंने किसी कुछ भी बताए बगैर बच्चे के शव को दफना दिया। अब अयोध्या नगर थाना प्रभारी महेश लिल्हारे का कहना है कि बच्चे के माता-पिता शोकाकुल हैं। इसलिए उन्होंने अभी यह नहीं बताया है कि बच्चे को कहां पर दफनाया है। उनके बयान लेने के बाद शनिवार को शव को निकाला जाएगा तथा उसका पोस्टमार्टम कराया जाएगा। पीएम रिपोर्ट से ही यह पता चल सकेगा कि बच्चे की मौत कुत्तों के काटने से हुई है या फिर किसी और वजह से। इस पूरे मामले में पुलिस पर गंभीरता न बरतकर लीपापोती के आरोप भी लग रहे हैं। बताया जा रहा है कि लोगों ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी थी। इसके बाद पुलिस को परिजनों ने शपथ पत्र देकर पोस्टमॉर्टम कराने से इनकार कर दिया। इसके बाद पुलिस ने कुछ भी नहीं किया। शुक्रवार को जब सोशल मीडिया पर यह मामला वायरल हुआ तब शुक्रवार शाम सवा सात बजे पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की।

लोगों ने किया हंगामा

मासूम को कुत्तों ने जब मार डाला तब नगर निगम की टीम को सूचना दी गई। जब शुक्रवार को नगर निगम की टीम कुत्ते पकड़ने पहुंचीं तब यहां लोगों ने जमकर हंगामा किया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments