Thursday, June 20, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशडॉ. दिनेश शाहरा अपने जन्मस्थान बड़नगर को दी भेट, स्कूली छात्राओं को...

डॉ. दिनेश शाहरा अपने जन्मस्थान बड़नगर को दी भेट, स्कूली छात्राओं को की छात्रवृत्ती प्रदान

युवाओं को सशक्त बनाने का उद्देश्य लेकर दिनेश शाहरा फाउंडेशन के संस्थापक डॉ. दिनेश शाहरा ने एक सराहनीय कार्य किया। उन्होंने अपनी फाउंडेशन के शिक्षा सशक्तिकरण कार्यक्रम के तहत बारह उत्कृष्ट हाई स्कूल लड़कियों को छात्रवृत्ति से सम्मानित किया। उन्होंने छात्राओं को उनके प्रगति और उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

बड़नगर से जुड़े अपने बचपन और पुरानी यादों के साथ, डॉ. शाहरा ने शिक्षा की परिवर्तनकारी शक्ति पर जोर देते हुए और समाज का ऋणी होकर, समाज की सेवा के लिए अपनी प्रतिबद्धता व्यक्त की.

उन्होंने कहा, “युवाओं को शिक्षा और स्वास्थ्य से संबंधित महत्वपूर्ण ज्ञान प्रदान करने का मकसद हमारे समाज के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाना है। दिनेश शाहरा फाउंडेशन प्रतिभा के पोषण और सभी के लिए समान अवसर प्रदान करने में विश्वास करता है। इन बारह उल्लेखनीय युवा छात्राओं ने असाधारण प्रदर्शन किया है, और उनकी शैक्षिक यात्राओं का समर्थन करना सम्मान की बात है।”

डॉ. शाहरा ने शिक्षा और सामुदायिक विकास के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के प्रतीक के रूप में फाउंडेशन द्वारा भेंट किए गए नए स्कूल गेट का भी उद्घाटन किया।

“हमने जो द्वार बनाया है वह न केवल एक भौतिक संरचना के रूप में खड़ा है बल्कि यह भविष्य के उज्ज्वल प्रतिभा का प्रवेश द्वार का भी है।” समारोह के दौरान डॉ. शाहरा ने टिप्पणी की।

स्कूल के प्राचार्य श्री आर.एस. परमार और ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर, श्री मुकेश राठौड़ ने छात्रों के शैक्षिक अनुभवों को और बेहतर बनाने के लिए फाउंडेशन से निरंतर सहयोग और समर्थन की इच्छा व्यक्त की।

“हम श्री दिनेश शाहरा और दिनेश शाहरा फाउंडेशन के समर्थन के लिए बेहद आभारी हैं। छात्रवृत्ति कार्यक्रम ने हमारे छात्रों के लिए संभावनाओं के द्वार खोल दिए हैं, और नवनिर्मित गेट ने स्कूल के बुनियादी ढांचे को बढ़ाया है, जिससे सीखने के लिए एक प्रेरणादायक माहौल तैयार हुआ है।” विद्यालय प्राचार्य श्री आर.एस.परमार ने व्यक्त किये।

डॉ. शाहरा उन कुछ चुनिंदा उद्योगपतियों में से एक हैं, जिन्होंने 50 साल से अधिक के अपने कॉर्पोरेट करियर में सनातन संस्कृति के सिद्धांतों को सफलतापूर्वक शामिल किया। एक दूरदर्शी नेता और कृषि क्षेत्र के विकासवादी के रूप में, उन्होंने मध्य प्रदेश को देश के ‘सोया बाउल’ में बदल दिया। डॉ. शाहरा दिनेश शाहरा फाउंडेशन (डीएसएफ) के संस्थापक और सनातन श्रृंखला की पुस्तकों के लेखक हैं। वह ‘वसुधैव कुटुंबकम’ के सनातन मूल्यों को बढ़ावा देकर समाज को सशक्त बनाने के मिशन पर हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments