Wednesday, April 17, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशबारिश का कहर जारी, इन्दौर और उज्जैन में चलानी पड़ी नाव, राजधानी...

बारिश का कहर जारी, इन्दौर और उज्जैन में चलानी पड़ी नाव, राजधानी में टूटा 11 साल का रिकॉर्ड

MP Weather: मध्यप्रदेश में बीते कुछ दिनों से बारिश का कहर जारी है। प्रदेश में बादल इस प्रकार से बरस रहे हैं कि इन्दौर और उज्जैन में नाव चलानी पड़ गई‌ । प्रदेश के कई बड़े बांधों के दरवाजे खोल दिए गए हैं। नर्मदा नदी जहां खतरे के निशान से 22 फीट अधिक बह रही है ,वहीं ताप्ती नदी भी खतरे के निशान से 8 मीटर ऊपर बह रही है । उज्जैन में शिप्रा नदी के उफान के कारण कई घाट डूब गए हैं। कई रास्ते बंद होने से आवागमन भी ठप्प पड़ गया है। नदियां और नाले अपने उफान पर आ चुके हैं‌ ।‌ बारिश के प्रलय के बीच खंडवा और बुरहानपुर का इन्दौर से सम्पर्क भी टूट चुका है। जहां प्रदेश की राजधानी में बारिश का पिछले 11 वर्ष का रिकॉर्ड टूट गया है। वहीं इन्दौर में 61 वर्षों का रिकॉर्ड टूट गया है।

इसी बीच मौसम विभाग द्वारा प्रदेश के इंदौर, भोपाल, उज्जैन, बड़वानी, खरगोन, खण्डवा, शाजापुर ,नर्मदापुरम, छिंदवाड़ा, धार बुरहानपुर, हरदा, बैतूल , जबलपुर, रतलाम, रीवा, खंडवा, सतना समेत कई जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है।। नर्मदा , शिप्रा, ताप्ती, तवा सहित प्रदेश की विभिन्न नदियों के किनारे बसे इलाकों में चेतावनी जारी कर दी गई है। प्रदेश के इन हालातों के मद्देनजर आपदा-प्रबंधन की टीम भी तैनात कर दी गई है। वहीं मोरटक्का में इंदौर- इच्छापुर राजमार्ग नर्मदा के पुल मार्ग को भी बन्द कर दिया गया है।

इन बांधों के दरवाजे खोले गए

जिराबाद मान बांध के तीन दरवाजे , माही बांध, के तीन दरवाजे खोल दिए गए हैं। बरगी तथा तवा बांध के 13 दरवाजे, उज्जैन के गंभीर डेम के पांच दरवाजे खोलने पड़े हैं।तवा डैम के 13 दरवाजों को 10 फीट की ऊंचाई पर खोलकर 217906 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। इसके साथ ही प्रदेश के इंदिरा सागर यशवंत सागर, सतपुड़ा, माचागोरा, पारसडोह, बांधों के भी दरवाजे खोल दिए गए हैं । वहीं शाजापुर के चिलर डैम में 16 फीट ऊपर पानी भर चुका है। नर्मदापुरम के सेठानी घाट का जलस्तर 962 फीट हो चुका है। जहां धार जिले में भारी बारिश के चलते जिले का खरगोन से संपर्क टूट गया है। वहीं इन्दौर का पातालपानी झरना भी अपने उफान पर है। आफत की इस प्रलयकारी बारिश के बीच खंडवा में ओंकारेश्वर बांध के सभी 23 दरवाजों को 6 मीटर तक खोल दिया गया है। 30 हजार क्यूमेक्स पानी छोड़ा जा रहा है।

जहां प्रदेश में बैतूल के भीमपुर में बारिश का नया रिकॉर्ड बना है। यहां 24 घंटे में 445 मिमी सर्वाधिक बारिश दर्ज की गई है। वहीं इसके पहले 24 घंटे में शिवपुरी में तीन अगस्त को सर्वाधिक वर्षा 470 मिमी दर्ज की गई थी।

Untitled 3 13

बीते 24 घंटे में बारिश के आंकड़े :

  • पचमढ़ी में 241.2 मिमी
  • बैतूल में 197.2 मिमी
  • नर्मदापुरम में 177.6 मिमी
  • इंदौर में 171.0 मिमी
  • धार में 137.5 मिमी
  • खरगोन में 135.0 मिमी
  • खंडवा में 135.0 मिमी
  • उज्जैन 119.4 मिमी
  • रतलाम में 85.0 मिमी
  • भोपाल में 71.7 मिमी
  • सिवनी में 68.4 मिमी
  • छिंदवाड़ा में 68.4 मिमी
  • रायसेन में 58.2 मिमी
  • भोपाल शहर में 41.0 मिमी
  • सागर में 35.4 मिमी
  • गुना में 25.8 मिमी
  • टीकमगढ़ में 13.0 मिमी
  • जबलपुर में 11.7 मिमी
  • मलाजखंड में 11.6 मिमी
  • खजुराहो में 11.2 मिमी
  • सतना में 10.8 मिमी
  • नौगांव में 8.6 मिमी
  • सीधी में 7.6 मिमी
  • दमोह में 7.0 मिमी
  • रीवा में 6.6 मिमी
  • मंडला में 5.0 मिमी
  • शिवपुरी में 4.0 मिमी
  • ग्वालियर में 1.0 मिमी
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments