Wednesday, February 21, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशशहडोल में पटवारी को रेत माफिया ने ट्रैक्टर से कुचला, मौके पर...

शहडोल में पटवारी को रेत माफिया ने ट्रैक्टर से कुचला, मौके पर मौत, अवैध खनन रोकने गए थे

MP Sand Mining: मध्य प्रदेश में खनन माफियाओं का तांडव जारी हैं। बीती रात शहडोल में रेत के अवैध कारोबार के विरुद्ध कार्रवाई करने पहुंचे पटवारी को रेत माफिया ने ट्रैक्टर से कुचल दिया, जिससे पटवारी की मौके पर ही मौत हो गई। रात भर पटवारी का शव घटना स्थल पर पड़ा रहा। सुबह शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। बता दें शनिवार-रविवार की दरमियानी रात करीब 12 बजे ब्योहारी तहसील के खड्डा में पदस्थ पटवारी प्रसन्न सिंह अपने तीन साथियों के साथ सोन नदी में हो रहे अवैध खनन को रोकने गया था।

रेत और कोयले का अवैध खनन पिछले कई महीनों से जारी

देवलोंद पुलिस ने बताया कि ब्यौहारी तहसील के खड्डा में पदस्थ पटवारी प्रसन्न सिंह प्रसन्न सिंह बघेल तहसीलदार के आदेश पर अपने तीन अन्य पटवारी साथियों के साथ सरकारी वाहन से पेट्रोलिंग करते रेत के अवैध खनन को रोकने गए थे। तभी गोपालपुर गांव में खनन माफियाओं ने पटवारी के ऊपर ट्रैक्टर चढ़ाकर उसे मार डाला। पुलिस और प्रशासन के सहयोग से जिले में रेत और कोयले का अवैध खनन पिछले कई महीनों से जारी है।

सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

टीम की तरफ से घाट पर रेत के परिवहन में लगे ट्रैक्टर को रोकने की कोशिश की। इस दौरान ट्रैक्टर चालक ने वाहन को रोकने की बजाए उल्टा पटवारी प्रसन्न सिंह पर ट्रैक्टर चढ़ा दिया, जिससे मौके पर ही पटवारी प्रसन्न सिंह की मौत हो गई। जिसके बाद मौके से ट्रैक्टर चालक फरार हो गया। घटना के बाद साथी पटवारियों ने प्रशासन को सूचना दी। बताया जा रहा है एक दिन पहले भी प्रशासनिक टीम ने 250 घनमीटर अवैध रेत जब्त की थी। इस घटना के बाद कांग्रेस ने मप्र सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने कहा शिवराज सिंह (Shivraj Singh Chouhan) के राज में मध्य प्रदेश की कानून व्यवस्था चौपट हो गई है। पटवारी, माइनिंग और फॉरेस्ट डिपार्टमेंट के कर्मचारियों पर लगातार हमले हो रहे हैं। रेत माफिया, पत्थर माफिया, शराब बेचने वाले खुलेकर गुंडागर्दी कर रहे हैं। इन लोगों को सरकार का संरक्षण प्राप्त है, इसलिए इनकी हिम्मत इतनी बढ़ी है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments