Sunday, July 14, 2024
Homeराज्‍यराजस्‍थानराष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की गोली मारकर...

राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की गोली मारकर हत्या, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

Karni Sena Chief Sukhdev Singh murder: राजस्थान की राजधानी जयपुर में राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के प्रदेशाध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh Gogamedi) की मंगलवार को जयपुर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। श्यामनगर इलाके में उनके घर के बाहर कुछ अज्ञात बदमाशों ने उन्हें गोली मारी है। सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को चार गोलियां मारी गई। हत्या की वारदाता सीसीटीवी में कैद हो गई। स्कूटी पर आए 2 बदमाशों ने सुखदेव सिंह गोगामेड़ी से मिलने के बहाने उनसे बातचीत की। तकरीबन 10 मिनट तक बातचीत करने के बाद दोनों बदमाशों ने ताबतोड़ गोलियां चला दी। घटना के वक्त गोगामेड़ी अपने घर में थे। उनकी हत्या के बाद जयपुर में हड़कंप मच गया है। सुखदेव सिंह के आवास पर भारी पुलिस बल तैनात है। जानकारी के मुताबिक, उन्हें चार गोलियां मारी गई। गैंगस्टर रोहित गोदारा ने हत्या की जिम्मेदारी ली।

सीसीटीवी में कैद हुई वारदात

हत्या की वारदात सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई। समाचार एजेंसी पीटीआई द्वारा जारी की गई फुटेज के अनुसार, दो हत्यारे, सुखदेव सिंह गोगामेड़ी और कुछ लोग आपस में बातचीत करते दिखाई दे रहे हैं। अचानक दो हमलावरों ने गोलियों से फायरिंग शुरू कर दी। सोफे पर बैठे सुखदेव सिंह को बचने का कोई मौका नहीं मिला और तकरीबन चार गोलियां उनके शरीर पर दाग दी गई। वीडियो में देखा जा सकता है कि उनके सुरक्षागार्ड को भी गोली मारी गई है। गोली मारने के बाद दोनों आरोपी फरार हो गए।

गजेंद्र सिंह शेखावत ने दुख जताया

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट किया है। वह बोले, ‘राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के समाचार से स्तब्ध हूं। इस संदर्भ में पुलिस कमिश्नर से जानकारी ली है और आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के लिए कहा है।

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी कौन थे जानें

सुखदेव सिंह गोगामेड़ी उस समय चर्चा में आ गए थे जब फिल्म पद्मावती के शूटिंग में फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली को उन्हीं के सेट पर जाकर थप्पड़ मार दिया था। सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने इस फिल्म के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। पूरे देश में इसका विरोध किया गया। इस विरोध से परेशान होकर फिल्म निर्माता को फिल्म का नाम बदलकर पद्मावत करना पड़ा। राजपूत समाज के युवाओं के बीच सुखदेव सिंह गोगामेड़ी काफी फेमस थे। सुखदेव सिंह ने 2018 चुनाव में भादरा से भाजपा से टिकट मांगा था पर नहीं मिला।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments