Monday, February 26, 2024
Homeट्रेंडिंगगर्म चाय पीने से क्यों भाग जाती है नींद, लेकिन कोल्ड टी...

गर्म चाय पीने से क्यों भाग जाती है नींद, लेकिन कोल्ड टी पीने से ऐसा नहीं होता ?

Hot Vs Cold Tea : सोशल मीडिया पर चाय को लेकर बनाए गए मीम काफी शेयर किए जाते हैं। चाय की फैन फॉलोविंग कितनी है ये शायद गिनती भी नहीं की जा सकती है। इसी तरह का एक मीम देखकर मन में ख्याल आया। ग्रीन टी, व्हाइट टी, ब्लैक टी, लेमन टी और भी न जाने कितने हैं चाय के प्रकार और उसके दीवाने, लेकिन इसे पीने से सेहत पर क्या असर पड़ता है। चाय की तलब में कई लोग दिन में कई बार चाय पी जाते हैं।

चाय पीने से उड़ जाती है नींद आइए जानते हैं इसका कारण

चाहें सर्दी का मौसम हो या गर्मी का चाय पीने के बाद शरीर हल्का सा ठंडा हो जाता है। इसका कारण है कैफीन। इस कैमिकल से फैट एनर्जी में बदलता है और पसीना आता है। हालांकि, इससे बहुत ज्यादा गर्मी नहीं लगेगी, लेकिन फिर भी शरीर ठंडा हो जाएगा। कुछ खास तरह की चाय से फैट जल्दी बर्न होता है, यही वजह है कि पतले होने के लिए लोग ग्रीन टी पीते हैं। घर से लेकर ऑफिस तक दिनभर में कई कप चाय हो जाती है। गरम चाय पीने से नींद और थकान दूर हो जाती है लेकिन कोल्ड टी पीने के बाद ऐसा नहीं होता है। आइए जानते हैं इसका कारण।

कोल्ड टी क्या होती है

आइस टी को कोल्ड टी कहते हैं। यह गरम चाय के उलट कूल रखने का काम करता है और इसके कई शारीरिक लाभ भी होते हैं। कोल्ड टी बर्फ से बनती है। हालांकि, इसे ब्लैक या ग्रीन टी से ही बनाई जाती है। कुछ लोग हर्बल टी में बर्फ मिलाकर भी आइस टी या कोल्ड टी बनाते हैं। इसका स्वाद बढ़ाने इसमें नीबू, आड़ू, चेरी और नारंगी जैसे फ्लेवर मिला सकते हैं। कोल्ड टी में पाए जाने वाले पोषक तत्व स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मददगार होते हैं।

कोल्ड टी

कोल्ड टी में पोटैशियम, डाइटरी फाइबर, मैगनीज, कैफीन, फ्लोराइड, फ्लेवोनॉएड और कई एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं।दूसरी किस्म की आइस टी जैसे ग्रीन या हर्बल टी में अलग-अलग पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं। इसमें कैफीन की मात्रा न के बराबर होती है, इसलिए इसे पीने से नींद नहीं भागती है। इसे पीने से वजन कम हो सकता है, शरीर हाइड्रेट रहता है,कैंसर के खतरे को कम करते हैं, यह हार्ट डिजीज से बचाने का काम करता है और शरीर को फ्री रेडिकल्स से बचाता है।

चाय पीने के तर्क

चाय पीने के फायदे गिनवाने वाले तर्क भी बहुत हैं। अगर सिर्फ उन बदलावों को देखा जाए जो चाय पीने के कारण शरीर में होते हैं तो चाय पीने के कारण शरीर में ऐसा होता है। चाय में काफी ज्यादा मात्रा में कैफीन होती है, जो खास तरह का स्टिम्‍युलेंट है। इसीलिए चाय पीने से नींद और थकान दूर हो जाती है। इसे पीने से लोग तरोताजा महसूस करते हैं। गरम चाय गलत समय और गलत तरीके से ज्‍यादा पीने से स्‍लीपिंग साइकल भी बिगड़ सकता है।इसमें मौजूद कैफीन की ज्‍यादा मात्रा दिमाग पर बुरा असर डाल सकती है।

ज्‍यादातर लोग ये जानते हुए भी चाय पीते हैं कि इसके बड़े नुकसान हैं। लेकिन, शायद आप ये जानकार चौंक जाएंगे कि अगर चाय सही तरीके से पी जाए तो इसके कई फायदे भी हैं। डॉक्‍टर्स के मुताबिक, चाय पीने से हार्ट अटैक का खतरा कम होता है। इससे वजन भी घट सकता है। हड्डियों के लिए भी चाय अच्छी मानी जाती है। चाय शरीर में पानी कमी को पूरा करती है। वहीं, इसमें मौजूद कैलोरीज एनर्जी की कमी को पूरा करती हैं। चाय में कई एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं। हर्बल टी पाचन तंत्र को बेहतर करती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments