Sunday, February 25, 2024
Homeदुनियादुनिया भर की जेलों में सबसे ज्यादा पाकिस्तानी कैदी

दुनिया भर की जेलों में सबसे ज्यादा पाकिस्तानी कैदी

इस वक्त पाकिस्तान कितने बुरे हालातों से गुजर रहा है वह किसी से छिपा नहीं है। पाकिस्तान आर्थिक कमर टूट चुकी है। आर्थिक हालात इतने बदतर हैं कि वह महंगाई ने सुरसा की तरह मूंह फाड़ रखा है। लोग परेशान हैं। पाकिस्तान नागरिकों ने देश छोडऩा भी शुरू कर दिया है। दूसरी तरफ पाकिस्तान अफगानियों को भी बाहर का रास्ता दिखा रहा है। इसी बीच एक ऐसे आंकड़े दुनिया के समाने आए हैं जो काफी चौकाने वाले हैं। हाल ही में एक रिपोर्ट जो कि जस्टिस प्रोजेक्ट पाकिस्तान (यह एक वकालत समूह जो कमजोर और विदेशों में फंस पाकिस्तानियों की मदद करता है।) ने सामने रखी है उसमें बताया गया है कि दुनिया भर की जेलें पाकिस्तानियों से भरी पड़ी है। मतलब दुनिया भर के देशों में यदि सबसे ज्यादा अन्य देशों के कैदी बंद हैं तो वह है पाकिस्तान के नागरिक। पाकिस्तानी कैदी कई देशों की जेलों में भरे पड़े हैं। रिपोर्ट के मुताबिक दुनिया में सबसे ज्यादा लगभग 14,000 से अधिक नागरिक कई देशों की जेलों में कैद हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार एक और चौंकाने वाली बात यह है कि जेलों में बंद ज्यादा पाकिस्तानी अमेरिका या यूरोप के देशों नहीं बल्कि मुस्लिम देशों में ही कैद हैं। बताया गया है कि लगभग 58 फीसदी से अधिक तो अरब की जेलों में कैद हैं। इनमें से ज्यादातर पर चोरी से लेकर नशीली दवाओं और तस्करी जैसे अपराधों की वजह से गिरफ्तार किये गये हैं। 2023 तक विदेशों में लगभग 200 पाकिस्तानी नागरिकों को मौत की सजा भी सुनाई जा चुकी है।

सबसे ज्यादा कैदी बंद हैं यूएई में

जो रिपोर्ट सामने आई है उसके मुताबिक इस साल के अंत तक यूएई जेलों में सबसे ज्यादा लगभग 5292 पाक नागरिक बंद हैं। इनमें से ज्यादादर नशीले पदार्थों और दवाओं के मामलों में जेल में बंद हैं। इसके अलावा अन्य लोगों अनैतिक गतिविधियोंं, हत्या, बलात्कार और चोरी के मामले में जेलों में बंद किए गए हैं। हालांकि यूएई और पाकिस्तान के बीच कैदियों के प्रत्यार्पण पर समझौता हुआ है लेकिन पेचीदा कानूनी अड़चनों पाकिस्तानी नागरिकों की यूएई की कानूनी अधिकारों तक पहुंच नहीं होती।

कितने कैदी किन देशों में

जानकारी मिली है कि 3000 से अधिक कैदी सऊदी अरब की जेलों में बंद जिनमें से 691 नशीली दवाओं के अपराध में बंद हैं। 180 चोरी और डकैती जैसे मामलों में कैद किये गये हैं जबकि 20 से अधिक लोगों को सड़क दुर्घटनाओं के मामले में गिरफ्तार किया गया है। लगभग 60 लोगों को फाइनांशियल अपराधों के कारण जेलों में बंद किया गया है। इसी प्रकार ग्र्रीस में 811, भारत 683, इराक में 672, इटली में 586 और ओमान की जेलों में 540 से ज्यादा पाकिस्तान नागरिक अपने दिन-रात गुजार रहे हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments