Sunday, February 25, 2024
Homeलाइफस्टाइलBEd Course Closed: 2 साल का स्पेशल बीएड कोर्स बंद, 4 वर्षीय...

BEd Course Closed: 2 साल का स्पेशल बीएड कोर्स बंद, 4 वर्षीय कोर्स को ही मिलेगी अब मान्यता

BEd Course Closed: ऐसे छात्र-छात्रा जो B.Ed. का कोर्स करना चाहते है उन सभी के लिए एक बहुत ही बड़ी अपडेट सामने आई है। इसके अनुसार B.Ed. के कोर्स को बंद कर दिया गया है। जिसे लेकर सरकार के तरफ से ऑफिसियल नोटिस जारी कर दी गयी है । देश में 2 साल का स्पेशल बीएड कोर्स बंद कर दिया गया है। अब इस कोर्स को मान्यता नहीं मिलेगी। 2024 से सिर्फ 4 वर्षीय स्पेशल बीएड को ही मान्यता दी जाएगी। आरसीआई ने इस संबंध में नोटिस जारी कर दिया है।

ऑफिसियल नोटिस जारी

ऐसे छात्र-छात्रा जो B.Ed. का कोर्स करना चाहते है। उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है सरकार के तरफ से B.Ed. कोर्स करने से जुडी सारी जानकारी ऑफिसियल नोटिस में जारी की गयी है शैक्षणिक सत्र 2024-2025 से सिर्फ चार वर्षीय स्पेशल बीएड कोर्स को ही मान्यता दी जाएगी। भारतीय पुनर्वास परिषद (आरसीआई) ने इस संबंध में नोटिस जारी कर दिया है। भारतीय पुनर्वास परिषद ही देश भर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों मेंकराए जा रहे स्पेशल बीएड कोर्सको मान्यता देती है। आरसीआई ने सर्कुलर में कहा है कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू होने के तहत अब दो वर्षीय स्पेशल बीएड कोर्स पर रोक लगा दी गई है। अब केवल चार वर्षीय स्पेशल बीएड कोर्स को ही मान्यता दी जाएगी। देश भर मेंऐसेकरीब 1000 संस्थान / विश्वविद्यालय हैं जहां यह कोर्स कराया जा रहा है।

सचिव की ओर से जारी सर्कुलर

आरसीआई के सदस्य सचिव विकास त्रिवेदी की ओर से जारी सर्कुलर में लिखा गया है एनसीटीई नेएनईपी-2020 के तहत इंटीग्रेटेड टीचर्सएजुकेशन प्रोग्राम (आईटीईपी) में चार वर्षीय बीएड कार्यक्रम का प्रावधान रखा है। इसके मद्देनजर आरसीआई ने भी चार वर्षीय बीएड पाठ्यक्रम को ही संचालित किए जाने का फैसला किया है। आगामी सत्र से आरसीआई की ओर से सिर्फ चार वर्षीय बीएड (विशेष शिक्षा) पाठ्यक्रम की ही मान्यता दी जाएगी।

क्या होता है स्पेशल बीएड कोर्स

स्पेशल बीएड कोर्स में दिव्यांग बच्चों को पढ़ाने के लिए शिक्षकों को ट्रेनिंग दी जाती है। दिव्यांग बच्चों की विशेष तरह की जरूरतों को ध्यान मेंरखकर ही इस कोर्स में प्रशिक्षण दिया जाता है। इसमें सुनने, बोलने व अक्षमता, दृष्टि बाधित, मानसिक विकलांगता आदि दिव्यांगों के लिए सिलेबस का संचालन किया जाता है। आरसीआई ने कहा है कि जो भी संस्थान चार साल का इंटीग्रेटेड बीएड स्पेशल एजुकेशन कोर्स (एनसीटीई के चार वर्षीय आईटीईपी कोर्स की तरह) करवाना चाहते हैं, वे अगले अकादमिक सत्र के लिए आवेदन कर सकेंगे। ऑनलाइन पॉर्टल खुलने पर इन्हें आवेदन का मौका मिलेगा। बताया जा रहा हैकि एनसीटीई स्पेशल बीएड इंटीग्रेटेड कोर्स का नया सिलेबस तैयार कर रही है। इस कोर्स को आरसीआई लागू करेगी। एनसीटीई का सिलेबस स्पेशल छात्रों की जरूरतों के अनुरूप ही डिजाइन किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments