Tuesday, May 28, 2024
Homeलाइफस्टाइलHealth Tips: सेहत की दुश्मन है नाश्ते की यह पसंदीदा चीज, हो...

Health Tips: सेहत की दुश्मन है नाश्ते की यह पसंदीदा चीज, हो सकते हैं कई नुकसान… 

Health Tips : शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सुबह के नाश्ते की पौष्टिता पर ध्यान रखना सबसे आवश्यक माना जाता है। नाश्ते में मौसमी फल, अंडे, दूध आदि को जरूर शामिल किया जाना चाहिए, जिससे शरीर को बेहतर तरीके से काम करते रहने के लिए पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा प्राप्त हो सके। हम सभी के घरों में नाश्ते को लेकर जो चलन है वह सेहत के लिए बेहतर नहीं माना जा सकता है। हम में से ज्यादातर लोग नाश्ते में ब्रेड या मैदे से बनी चीजों को शामिल करते हैं, पर इसे सेहत के लिहाजे से कई प्रकार से नुकसानदायक पाया गया है। विशेषकर व्हाइट ब्रेड का सेवन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

व्हाइट ब्रेड में मुख्यरूप से कार्बोहाइड्रेट की अधिकता होता है, ऐसे में इसका अधिक सेवन डायबिटीज की समस्या और वजन बढ़ने का खतरा भी बढ़ा सकता है। ब्रेड में शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्व भी नहीं होते हैं, ऐसे में इसे पौष्टिक नाश्ते के रूप में सेवन में नहीं लाया जा सकता है। इसके अलावा ब्रेड जैसी चीजें अधिक प्रोसेस्ड होती हैं, जिससे ब्लड शुगर का स्तर बढ़ने का खतरा रहता है।

ब्रेड का अधिक सेवन करना किस प्रकार से सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है?

ब्रेड में पोषकता की कमी

सफेद ब्रेड से बनी चीजें आपको स्वादिष्ट जरूर लग सकती हैं, पर असल में इसे शरीर को पोषण देने के लिए बेहतर विकल्प नहीं माना जा सकता है। ब्रेड को तैयार करने की प्रक्रिया के दौरान आटे की पौष्टिकता कम हो जाती है, साथ ही चूंकि यह मैदे का बना हुआ होता है ऐसे में इससे पाचन और वजन की समस्या भी हो सकती है। व्हाइट ब्रेड के सेवन से शुगर लेवल बढ़ने का भी जोखिम होता है।

ब्लड शुगर बढ़ने की समस्या

व्हाइट ब्रेड में फाइबर और प्रोटीन की मात्रा भी बहुत कम होती है, ऐसे में सफेद ब्रेड तेजी से पच जाता है और इसके अवशोषित होने की प्रक्रिया भी काफी तेज होती है। इससे ब्लड शुगर तेजी से बढ़ सकता है। अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लीनिकल न्यूट्रिशन में 2010 में प्रकाशित शोध से पता चलता है कि ब्रेड जैसी प्रोसेस्ड चीजों का अधिक सेवन करने वाले लोगों में टाइप-2 डायबिटीज की जटिलताओं के बढ़ने का खतरा अधिक होता है।

बढ़ सकता है वजन

यदि आप वजन कम करने के प्रयास में लगे हुए हैं तो भी सफेद ब्रेड जैसे कार्बोहाइड्रेट वाली चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। चूंकि यह तेजी से पच जाते हैं जिससे अधिक खाने की इच्छा होती है साथ ही इसके अवशेष फैट के रूप में एकत्रित होने लग जाते हैं जिससे वजन बढ़ने का खतरा हो सकता है। चूंकि पाचन स्वास्थ्य के लिए भी इसे नुकसानदायक माना जाता है ऐसे में व्हाइट ब्रेड वाली चीजों का सेवन कम से कम किया जाना चाहिए।

किन ब्रेड्स का कर सकते हैं सेवन?

यदि आप आहार में ब्रेड को शामिल करना चाह रहे हैं तो व्हाइट ब्रेड की जगह पर ग्रेन ब्रेड को शामिल किया जा सकता है। आटे से बने ब्रेड न सिर्फ शरीर को काम करने की शक्ति प्रदान करते हैं साथ ही गेंहू के आटे में फाइबर और शरीर के लिए आवश्यक अन्य कई तत्व भी होते हैं, जिसकी शरीर को नियमित रूप से आवश्यकता होती है। नाश्ते में ग्रेन ब्रेड के साथ फल-सलाद और डेयरी उत्पादों को जरूर शामिल किया जाना चाहिए। 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments