Home लाइफस्टाइल मच्छरों से चाहिए हमेशा के लिए छुटकारा, तो आज ही घर में...

मच्छरों से चाहिए हमेशा के लिए छुटकारा, तो आज ही घर में लगाएं ये पौधे!

0
277

वैसे तो बारिश के मौसम में मच्छरों का आतंक सबसे ज्यादा रहता है, लेकिन गर्मी के दिनों में भी सुबह और शाम के समय मच्छर (Mosquitoes) काफी बढ़ जाते हैं. आपने भी महसूस किया होगा कि गर्मी के दिनों में शाम के समय पार्क में या फिर घर की बालकनी में इतने मच्छर आ जाते हैं कि बैठना मुश्किल कर देते हैं. डेंगू (Dengue), मलेरिया (Malaria), चिकनगुनिया (Chikengunia) और अब तो जीका वायरस (Zika Virus) जैसी बीमारियां भी मच्छर के काटने की वजह से होती हैं. इसलिए बेहद जरूरी है कि आप अपने साथ ही अपने परिवार के सदस्यों को भी मच्छरों से बचाकर रखें.

घर में इन पौधों को लगाएं और मच्छर दूर भगाएं

वैसे तो मच्छरों से बचने के लिए बाजार में कई तरह के केमिकल्स वाले स्प्रे, क्रीम और लिक्विड रिपेलेंट (Liquid Repellent) मौजूद हैं. लेकिन इन सभी के साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं. इसलिए बेहतर है कि हम मच्छरों से बचने का कोई नेचुरल तरीका अपनाएं और ऐसा ही एक तरीका है पौधे. जी हां, हम ऐसे पौधों की बात कर रहे हैं जो प्राकृतिक रूप से मच्छरों को भगाने का काम कर सकते हैं.

गेंदे के फूल का पौधा

गेंदे का फूल (Marigold) किसी खास मौसम में नहीं बल्कि सालभर खिला रहता है. इस फूल की तीखी सुगंध मच्छरों के लिए परेशानी का सबब है. यही कारण है कि मच्छर इस पौधे से दूर ही रहते हैं. अगर आप गेंदे का पौधा अपने घर में लगाएंगी तो घर की खूबसूरती तो बढ़ेगी ही, साथ ही मच्छर भी दूर रहेंगे. आप चाहें तो गेंदे के पौधे के गमले को घर के एंट्रेंस पर रखें ताकि मच्छर घर में न आ पाएं.

लैवेंडर का पौधा

आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन सिर्फ मच्छर ही नहीं बल्कि कोई भी कीड़े-मकोड़े या फिर खरगोश जैसे जानवर भी लैवेंडर के पौधे (Lavender) के आस-पास नहीं जाते हैं. इसका कारण ये है कि लैवेंडर के पौधे की पत्तियों में पाए जाने वाले इसेंशियल ऑयल की वजह से उसमें से तेज सुगंध आती है जो मच्छरों की सूंघने की क्षमता को कम कर देती है. इस पौधे को ज्यादा पानी की भी जरूरत नहीं होती और ये लंबे समय तक खराब भी नहीं होता है.

रोजमेरी का पौधा

एक और नैचरल मॉस्किटो रिपेलेंट प्लांट है रोजमेरी (Rosemary) जिसे गुलमेंहदी के नाम से भी जाना जाता है. इस पौधे में से एक खास तरह की लकड़ी जैसी गंध आती है जो मच्छरों के साथ ही मक्खी और कई अन्य कीड़ों को भी दूर रखने में मदद करती है. डेकोरेशन के लिहाज से भी रोजमेरी के पौधे को बेहतरीन माना जाता है.

कैटनिप का पौधा

कैटनिप का पौधा जिसे कई जगहों पर कैटमिंट (Catmint) के नाम से भी जाना जाता है, पुदीने की फैमिली का ही एक पौधा है जो बड़ी आसानी से कहीं भी उग जाता है. अमेरिका के Iowa स्टेट यूनिवर्सिटी में हुई एक स्टडी में यह बात सामने आई कि कैटमिंट का पौधा DEET से 10 गुना ज्यादा असरदार है मच्छरों से बचाने में. DEET वो केमिकल है जिसका इस्तेमाल मॉस्किटो रिपेलेंट में किया जाता है.

तुलसी और पुदीना

तुलसी का पौधा (Basil) भी मच्छरों को घर से दूर रखने में मदद कर सकता है. तुलसी की पत्तियों की तेज और तीखी खुशबू भी मच्छरों और कीड़ों को दूर रखने में मदद करती है. इसके अलावा पुदीने का पौधा (Mint) भी मच्छर, मक्खी और चींटियों को घर से दूर रखता है.

नीम का पौधा

मच्छर, मक्खी और दूसरी तरह के कीड़ों को दूर करने के लिए नीम का पौधा लगाना काफी लाभदायक होता है। अगर आपके घर में गार्डन है तो आप वहां नीम का पेड़ लगा सकते हैं इससे मच्छर वहां बिल्कुल नहीं भटकेंगे।

सिट्रानेला का पौधा

आपको बता दें कि मच्छरों से बचने के लिए आप सिट्रानेला के पौधे का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसकी खुशबू से मच्छर दूर भागते हैं. बता दें कि इस पौधे का इस्तेमाल मॉस्किटो रेपलेंट क्रीम बनाने में भी किया जाता है

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here