Saturday, May 18, 2024
Homeलाइफस्टाइलये है दुनिया की सबसे ताकतवर औषधीय, जानें इसके अनगिनत फायदे

ये है दुनिया की सबसे ताकतवर औषधीय, जानें इसके अनगिनत फायदे

वॉटरक्रेस (Watercress) इस धरती की सबसे ताकतवर औषधीय है। कई जगहों पर इसे जलकुंभी के नाम से भी जाना जाता है। जलकुंभी के सेवन से हाई ब्लड प्रेशर की समस्‍या को दूर किया जा सकता है। साथ ही इसके सेवन से हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया, हार्ट अटैक या अन्य किसी हार्ट डिजीज की आशंका को भी नियंत्रित किया जा सकता है। एक पानी में उगने वाला ऐसा पौधा है जो अपने औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। इसे जलकुंभी भी कहा जाता है। इसमें के कई इसके खाने के अनेक फायदे हैं। ज्यादातर लोग इसे बेकार समझ कर फेंक देते हैं लेकिन इससे अपने शरीर और स्किन दोनों को ही फायदा मिलता है।

जलकुंभी खाने के सेहत पर अनगिनत फायदे हैं। अलग-अलग सब्जियों में शरीर के लिए जरूरी लगभग हर पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यही वजह है कि हेल्थ एक्सपर्ट्स बच्चों से लेकर बड़े और बूढ़ों तक को अपनी हर समय की डाइट में एक ना एक सब्जी को जरूर शामिल करने की सलाह देते हैं।

जलकुंभी (वॉटरक्रेस) के फायदेः

पोषक तत्वः जलकुंभी में बीटा कैरोटीन एंटीऑक्‍सीडेंट समेत कई और पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसमें विटामिन A, विटामिन C और विटामिन K की प्रचुर मात्रा होती है। इसके अलावा जलकुंभी में मैंगनीज, सोडियम, फॉलेट कैल्शियम, थियामिन आदि की भी अच्छी मात्रा होती है। ऐसे में ये शरीर को कई तरह से फायदा पहुंचा सकती है। हड्डियों के स्वस्थ विकास और मजबूती में मदद करता है।

एंटीऑक्सीडेंट गुणः इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर को मुक्त रैडिकल्स से बचाव में मदद करते हैं, जो की जरा से होने और कुछ प्रकार के बीमारियों के जोखिम को बढ़ा सकते हैं।

हृदय : वॉटरक्रेस रक्तदाब को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, जो हृदय की सेहत के लिए महत्वपूर्ण है।

त्वचा : इसमें पाए जानें वाले मिनरल्स और विटामिन्स के कारण त्वचा संबंधी समस्याओं को कम करने में मददगार है।
ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल: कई अध्ययनों से पता चला है कि वॉटरक्रेस ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में भी प्रभावी है।

वजन घटाने: वॉटरक्रेस का सेवन वजन घटाने में मदद कर सकता है क्योंकि यह भरा हुआ महसूस कराता है।

मुँहासों को कम करने में मदद करता है: वॉटरक्रेस में एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो मुँहासों को कम करने में मदद करते हैं।

त्वचा को मॉइश्चराइज करता है: इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल्स त्वचा की नमी को बनाए रखने में मदद करते हैं। वॉटरक्रेस में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाते हैं।

रंग साफ करता है: इसमें मौजूद विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स मेलानिन का उत्पादन कम करके त्वचा का रंग साफ करने में मदद करते हैं। वॉटरक्रेस के एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा को उम्र बढ़ने के प्रभावों से बचाते हैं।

वॉटरक्रेस का सेवन कैसे करें-

  • वॉटरक्रेस को सलाद में मिलाकर खा सकते हैं।
  • आप वॉटरक्रेस फलों के साथ स्मूदी में मिलाकर पी सकते हैं।
  • वॉटरक्रेस का सूप भी तैयार कर के पी सकते हैं।
  • वॉटरक्रेस के पत्तियां सैंडविच में डालकर भी खा सकते हैं।

जलकुंभी (Watercress) के पौधे झरने या तालाब में उगते हैं और इसे एशिया और यूरोप महादेश में सबसे ज्यादा पाया जाता है। वहीं, वैसे तो कई देशों में इस पौधे को घरों में सजावट के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन जलकुंभी में मौजूद गुणों और सेहत पर इसके फायदों को देखते हुए सीडीसी ने इसे अपनी लिस्ट में पहला स्थान दिया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments