Friday, June 14, 2024
HomeदेशCrime News : CEO मां द्वारा 4 साल के बेटे की हत्या...

Crime News : CEO मां द्वारा 4 साल के बेटे की हत्या की जांच में आया नया मोड़, जानें पूरी कहानी

Goa Murder Case: गोवा में स्टार्टअप कंपनी की की सीईओ (CEO) ने अपने चार साल के बेटे की हत्या कर दी है। जब लोगों के सामने ये मामला आया तो लोगों के पैरो तले जमीन निकल गई। महिला ने पहले अपने बेटे को नॉर्थ गोवा में मारा और बैग में डालकर लखनऊ तक लेकर आए हैं। ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस स्टार्ट-अप माइंडफुल एआई लैब'(Artificial Intelligence Start-up Mindful AI Lab) की सीईओ हैं।
सूत्रों ने बताया कि बेंगलुरु स्थित आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस स्टार्टअप कंपनी की सीईओ सूचना सेठ ने सोशल मीडिया पर अपने बेटे की तस्वीर डालकर उसका क्या होगा? हैशटैग देते हुए एक पोस्ट डाला था। पुलिस सूत्रों ने कहा कि पोस्ट 10 अक्टूबर 2023 को लिखा गया था और आरोपी मां द्वारा हत्या की पूर्व योजना बनाने का संदेह पैदा किया था। पुलिस को संदेह है कि 39 वर्षीय आरोपी सूचना सेठ लंबे समय से अपराध की योजना बना रही थी और साजिश रच रही थी।

झगड़ालू महिला थी

पुलिस ने यह भी जानकारी जुटाई है कि आरोपी सूचना सेठ अपने अपार्टमेंट परिसर में घमंडी और झगड़ालू महिला थी। सूत्रों ने यह भी कहा कि मुलाकात का अधिकार मिलने के बाद पिता वेंकटरमण रविवार को अपने बेटे से मिलने के लिए इंडोनेशिया के जकार्ता से बेंगलुरु पहुंचे थे। वह बच्चे के लिए खिलौने और नए कपड़े लेकर आए थे। लेकिन, सूचना सेठ शनिवार को बच्चे को गोवा ले गई। इसके बाद उसने अपने मासूम बेटे को गोवा के होटल में निर्दयी तरीके से मौत के घाट उतार दिया।

सुनाई आत्महत्या की कहानी

आरोपी सूचना सेठ ने दावा किया कि उसने अपने बेटे को अपने पिता से वीडियो कॉल पर बात करने से रोकने के लिए उसके चेहरे पर तकिया दबाकर उसे बेहोश करने का प्रयास किया था और बच्चे का दम घुटने से उसकी मौत हो गई। सूचना ने दावा किया कि बच्चे की मौत के बाद उसने खुद की जान लेने की कोशिश की। उसने अपने हाथ काटकर आत्महत्या करने की कोशिश की, लेकिन वह असफल रही। उसे समझ नहीं आ रहा था कि इस स्थिति में क्या किया जाए, इसलिए उसने शव को एक सूटकेस में भरा और होटल से बाहर निकल गई। आरोपी महिला ने पुलिस के सामने दावा किया की वेंकटरमण ने उसे कई फोन कॉल और वीडियो कॉल किए लेकिन उसने कोई जवाब नहीं दिया। घटना के बाद चार वर्षीय चिन्मय के परिवार ने हरिश्चंद्र घाट पर अंतिम संस्कार किया। हालांकि, वेंकटरमण और उसके परिवार ने मीडिया के सामने कोई बयान नहीं दिया है। पुलिस सूत्रों ने कहा कि एक बार अंतिम संस्कार हो जाने के बाद गोवा पुलिस वेंकटरमण से सवाल करेगी।

पूर्व पति से दूर रखना चाहती थी बच्चे को

जांच में पता चला है कि मृत लड़के ने रविवार को अपने पिता से वीडियो कॉल पर बात की थी। सेठ ने कबूल किया था कि वह नहीं चाहती थी कि उसका बेटा अपने पिता से बात करे। प्रारंभिक जांच से पता चला है कि उसने अपने पूर्व पति को अदालत द्वारा मुलाकात का अधिकार दिए जाने के बाद बच्चे तक पहुंच से वंचित करने के लिए अपराध किया था।

खून के धब्बे

गोवा पुलिस ने कर्नाटक पुलिस के साथ मिलकर सेठ को गोवा के एक होटल में अपने चार साल के बेटे की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। यह घटना तब सामने आई जब हाउसकीपिंग स्टाफ को होटल के कमरे में खून के धब्बे मिले। पुलिस के मुताबिक, 6 जनवरी को सूचना सेठ ने अपने बेटे के साथ उत्तरी गोवा के कैंडोलिम में एक किराए के होटल में चेक-इन किया था। वह वहां लगभग 2 दिन रही। इसके बाद, उसने होटल के कर्मचारियों को बताया कि वह कुछ काम के लिए बेंगलुरु जाना चाहती है और उनसे टैक्सी की व्यवस्था करने को कहा। 8 जनवरी को सूचना एक टैक्सी में अकेले अपने भारी-भरकम सूटकेस के साथ होटल से रवाना हुई। वह सुबह-सुबह ही अपने होटल से निकल गई थी, लेकिन बेटा उसके साथ नहीं था। जब होटल के स्टाफ सूचना सेठ के कमरे को साफ करने गए, तो उन्हें तौलिये पर खून के धब्बे मिले। इसके बाद होटल प्रबंधन ने तुरंत पुलिस को सूचना दी। स्टाफ ने यह भी बताया कि जब महिला होटल से बाहर निकली तो उसका चार साल का बेटा उसके साथ नहीं देखा गया था और वह एक असामान्य रूप से भारी बैग भी ले जा रही थी।

ऐसे महिला आई गिरफ्त में

इसके बाद महिला के कहने पर होटल स्टाफ ने टैक्सी बुलाया और सूचना सेठ अकेले ही अपना भारी सा बैग लेकर उसमें बैठकर चली गई। इसके बाद जब होटल स्टाफ ने सूचना के कमरे को साफ किया तो उन्हें कई जगह पर खून के धब्बे मिले, जिससे वह हैरान रह गए और तुरंत कैलंगुट पुलिस को सूचित किया। कैलंगुट पुलिस तुरंत होटल पहुंची और जांच की और मां सूचना से सपंर्क किया। जिस टैक्सी में सूचना सेठ बैठी थी उसके नंबर से पुलिस ने बात की और उससे बेटे के बारे में पूछा। सूचना ने पुलिस को चकमा देते हुए कहा कि उसने बेटे को मालगांव में अपने दोस्त के पास छोड़ दिया है।

बैग में मिला बच्चे का शव

पुलिस ने दोस्त के घर का पता मांगा तो पता चला कि सूचना ने गलत पता दिया है, जिससे पुलिस का शक और गहराता चला गया। पुलिस ने तुरंत ड्राइवर को फोन कर पास के पुलिस स्टेशन में जाने का आदेश दिया। सूचना को इसकी कोई जानकारी नहीं थी। ड्राइवर तुरंत मंगला पुलिस स्टेशन चित्रकुट पहुंचा और पुलिस की टीम ने महिला के बैग की तलाशी ली, जिसमें 4 साल के बच्चे का शव मिला। पुलिस ने बच्चे के शव को शवगृह में रख दिया और आरोपी को हिरासत में ले लिया। गोवा की कैलंगुट पुलिस ने सूचना पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 302 (हत्या) और 201 (सबूत नष्ट करना) और गोवा बाल अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments