Sunday, July 21, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशराजधानी में धर्म परिवर्तन को लेकर सनसनीखेज मामला आया सामने

राजधानी में धर्म परिवर्तन को लेकर सनसनीखेज मामला आया सामने

धर्म परिवर्तन: भोपाल में पशुपालन में पत्रोपाधि की पढ़ाई करने वाली छात्रा का उसकी रूम मेट द्वारा पहले हिंदू-मुस्लिम भाई-भाई कहकर अपने कमरे में रहने के लिए तैयार किया। इसके बाद वह अपने साथ नमाज पढऩे और हिजाब पहनने के लिए दबाव बनाने लगी। कुछ दिनों बाद उसने कहा कि तुम छोटी जाति की हो, हिंदू धर्म में तुम्हारा कोई स्थान नहीं है। तुम मुस्लिम धर्म अपना लो। छात्रा ने मुस्लिम धर्म अपनाने से मना किया तो आरोपीत युवती ने हामिद नाम के अपने दोस्त से पीड़िता से छेडख़ानी कराने लगी। कई दिनों तक धर्म परिवर्तन के लिए दबाव और छेड़छाड़ की घटना चलती रही तो छात्रा ने शनिवार को महिला थाने में दोनों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि पीड़ित छात्रा ने जब धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बनने से इंकार कर दिया तो आरोपी युवती ने अपने दोस्त हामिद के साथ मिलकर युवती को कमरे में बंधक बना लिया। पीड़िता ने भोपाल में रहने वाले एक लोकल गार्जियन से संपर्क कर खुद को मुक्त कराया। पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

बालाघाट की रहने वाली है पीड़ित युवती

महिला थाना पुलिस के अनुसार 22 वर्षीय युवती मूलत: बालाघाट की रहने वाली है। वह पशुपालन महाविद्यालय में पत्रोपाधि की पढ़ाई कर रही है। जुलाई महीने से छात्रा को यहां अस्पताल में पशुओं के इलाज संबंधी प्रशिक्षण प्राप्त करना था। इसके बाद पीड़िता ने परिचित युवती अमन से संपर्क किया। अमन सैयत से पीड़िता की करीब चार माह पहले ही किसी माध्यम से संपर्क हुआ थ। अमन ने पीड़िता को लांबाखेड़ा में अपने कमरे में रहने के लिए ऑफर किया। पीडि़ता थी साथ में रहने को तैयार हो गई।

पहले साथ में नमाज पढऩे, फिर धर्म परिवर्तन का बनाने लगी दबाव

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह भोपाल के पशुपालन विभाग के पत्रोपाधि महाविद्यालय (वेटनरी कॉलेज) की छात्रा है। अमन का पहले व्यवहार ठीक था। वह हिंदू-मुस्लिम भाई-भाई कहकर पहले साथ में नमाज पढऩे को कहती थी। कुछ दिनों बाद वह नमाज पढऩे और हिजाब पहनने के लिए दबाव बनाने लगी। पहले सहेली होने का हवाला देकर हिजाब और नमाज की ओर आकर्षिक करना चाहा, पीड़िता जब नमाज पढऩे का तैयार नहीं हुई तो आरेापी अमन सैयद ने अपने दोस्त हामिद नाम के युवक से प्रताड़ित कराने लगी। अंत में तो दोनों ने मिलकर पीडि़त युवती को धर्म परिवर्तन नहीं करने पर बंधक बना लिया था।

रात में सोते समय कराती थी छेड़छाड़

पीड़िता ने आरोप लगाया कि वह रात में जल्दी सो जाती थी। उसे कई दिन से आभास हो रहा था कि कोई उसका शरीर छूता है। कोई उसके शरीर के न छूने वाले अंगों को टच करता है। उन पर हाथ फेरता है। पीड़िता जब जगती तो उसके बिस्तार पर अमन सैयद और उसका दोस्त हामिद बैठे रहते थे। दोनों डांटकर उसे चुप कराकर सुला देते थे। इसके बाद तो हामिद खुलेआम छेड़ाछाड़ करने लगा था।

गला दबाकर मारने का प्रयास, पुलिस ने मुक्त कराया

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि धर्म परिवर्तन नहीं करने पर दोनों आरोपी पढ़ाई छोड़कर वापस बालाघाट लौट जाने के लिए दबाव बनाने लगे। ऐसो नहीं करने पर मुझे बंधक बना दिया। इसके बाद मैंने अपने निवास का पता मां को मैसेज कर बताया कि वह मुझे यहां से निकालवाए, मैं बंधक हूं। इसके बाद मां ने रिश्तेदार को भेजा तो हामिद ने उसके साथ मुझे नहीं भेजा। जब मेरा रिश्तेदार पुलिस की मदद लेने चला गया तो हामिद ने मेरा फोन छीन लिया और गला दबाकर मेरी हत्या की कोशिश करने लगा। हामिद पीड़िता की हत्या का प्रयास कर ही रहा था कि मौके पर गौतम नगर पुलिस पहुंच गई, जिससे पीड़िता की जान बच सकी।

गौतम नगर पुलिस ने घर भेज दिया था

पीड़िता ने आरोप लगाए हैं कि जुलाई महीने के अंतिम पखवाड़े में जब मेरे साथ यह घटना हुई तो गौतम नगर पुलिस ने मुझे हामिद नाम के युवक की चंगुल से मुक्त कराया और मेरे रिश्ते के भाई के साथ बालाघाट भेज दिया। मैं एफआईआर कराना चाहती थी, लेकिन विवाद का डर बताकर पुलिस ने मुझे गांव भेज दिया। पीड़िता तीन अगस्त को बालाघाट से भोपाल में परीक्षा देने आई और यहीं रुक गई। पांच अगस्त को सुबह महिला थाने पहुंचचकर रूम मेट युवती अमन सैयद और उसके दोस्त हामिद के खिलाफ बंधक बनाने, छेड़छाड़ करने, धमकी देने और धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने संबंधी धाराओं में मामला दर्ज करा दिया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments