Thursday, June 20, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशअमित शाह ने जारी किया शिवराज सरकार का 'रिपोर्ट कार्ड', कहा- मध्य...

अमित शाह ने जारी किया शिवराज सरकार का ‘रिपोर्ट कार्ड’, कहा- मध्य प्रदेश को पूरी तरह आत्मनिर्भर बनाने के लिए जनता मोदी-शिवराज का साथ दे

भोपाल। प्रदेश में इस वर्ष के अंत में विधानसभा का चुनाव होने जा रहा है। भाजपा पूरी तरह से चुनाव के लिए तैयार है। भाजपा ने अपने 20 वर्ष के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड भी रविवार को जनता के सामने रख दिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को भोपाल के कुशाभाऊ ठाकरे अंतरराष्ट्रीय सभागार में मध्यप्रदेश सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी कर दिया है। प्रदेश सरकार के गरीब कल्याण महाअभियान 2003-2023 के नाम से रिपोर्ट कार्ड में 2003 से पहले की सड़क, बिजली, पानी, शिक्षा, सिंचाई, प्रति व्यक्ति आय, सकल घरेलू उत्पाद, कृषि विकास दर, महिला सशक्तीकरण, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के विकास की योजनाओं और बजट का आंकड़ा प्रस्तुत किया गया है।

अमित शाह ने रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए कहा कि मैं कांग्रेस के मिस्टर बंटाढार और कमलनाथ को चुनौती देता हूं कि मैंने 20 वर्ष के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड जारी किया है, आप भी प्रदेश में कांग्रेस के 50 वर्ष के शासनकाल का रिपोर्ट कार्ड लेकर जनता के सामने आइए। अमित शाह ने कहा कि मुझे मालूम है कि कांग्रेस पार्टी और उसके नेता प्रदेश में 50 वर्ष के अपने शासनकाल में किए गए कार्यों का ब्यौरा लेकर जनता के सामने नहीं आएंगे, इसलिए मैंने ही तुलनात्मक आंकड़े प्रस्तुत किए हैं।

भाजपा सरकार ने 20 वर्षों में मप्र को बनाया बीमारू से विकसित राज्य

मप्र सरकार के 20 वर्ष का रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए अमित शाह ने कहा कि 1956 में मध्य प्रदेश का गठन हुआ था, उसके पहले से 1950 से 2003 तक 53 साल में 6-7 साल छोड़कर पूरा समय कांग्रेस की सरकार रही। हमने मध्य प्रदेश को 20 साल में एक बीमारू राज्य से विकसित राज्य बनाया। उन्होंने कहा कि जो लोग दावे कर रहे हैं वो पहले 53 साल का हिसाब दें। शाह ने कहा कि 1980 में विशेषज्ञ अमित बोस ने चार राज्यों के लिए बीमारू राज्य शब्द का जिक्र किया था। उन्होंने पेपर में लिखा था कि इन राज्यों का कुछ नहीं हो सकता है। इन चार राज्यों में मध्यप्रदेश, बिहार, उत्तर प्रदेश शामिल थे।

शिवराज बहुत मेहनती, बदल दी प्रदेश की तस्वीर :

अमित शाह ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बहुत मेहनती हैं। 2003 में मप्र में भाजपा की सरकार बनी, लेकिन दो मुख्यमंत्री कम समय तक रहे। और शिवराज सिंह चौहान 2005 से अब तक मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री के तौर पर उनका सबसे अधिक समय का कार्यकाल है, इसलिए प्रदेश को बीमारू राज्य से विकसित राज्य बनाने में उनका अहम योगदान है। उनके लगातार प्रयास से ही प्रदेश के माथे से बीमारू राज्य का कलंक हटा है।

मप्र को बनाएंगे संपूर्ण विकसित और आत्मनिर्भर :

अमित शाह ने रिपोर्ट कार्ड जारी करते हुए कहा कि मप्र विकसित राज्य बना है। अब इस राज्य को संपूर्ण विकसित और संपूर्ण आत्मनिर्भर राज्य बनाएंगे। इसके लिए डबल इंजन की सरकार होनी चाहिए। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मध्यप्रदेश को सभी मामलों में आत्मनिर्भर और बनाने में लगे हैं। इसके लिए प्रदेश की नौ करोड़ जनता का सहयोग चाहिए। मैं प्रदेश की जनता से कहना चाहता हूं कि आप प्रदेश में जो भी विकास कार्य चल रहे हैं, उन्हें आगे जारी रखने और प्रदेश को संपूर्ण विकसित और संपूर्ण आत्मनिर्भर बनाने के लिए भाजपा का साथ दें।

कांग्रेस सरकार ने जानबूझकर जारी की कम राशि :

शाह ने कहा कि वर्ष 2004 से 2014 में जब सोनिया- मनमोहन सरकार थी, मध्य प्रदेश को 10 साल में सिर्फ 1 लाख 58 हजार करोड़ रुपए दिए गए। जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 साल में 8 लाख 30 हजार करोड़ रुपए मध्य प्रदेश को दे दिया। ‘बंटाढार और कमल नाथ बताएं कि मध्यप्रदेश का काफिला क्यों लुटा?

शाह ने गिनाए कांग्रेस के 24 घोटाले

देश में पूर्व में रही कांग्रेस सरकार में हुए घोटाले को गिनाते हुए अमित शाह ने कहा कि बोफोर्स, राफेल डील, कॉमनवेल्थ गेम्स घोटालों सहित दर्जनों घोटाले कांग्रेस सरकार ने किए। कांग्रेस सरकार के रहते हुए मध्यप्रदेश में भी कम घोटाले नहीं हुए। बंटाधार और कमलनाथ को इस पर जवाब देना चाहिए।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments