नागपंचमी पूजा का मिलेगा दोगुना फल, नागपंचमी के दिन भूलकर भी न करें ये काम

0
388

Nag Panchami 2023: हिन्दू धर्म में नागपंचमी का विशेष महत्व है। यह हर साल शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है। इस बार नाग पंचमी सोमवार यानी 21 अगस्त को पड़ रही है। इस दिन नाग देवता की पूजा की जाती है। 21 अगस्‍त सोमवार को नाग देवता की पूजा का पर्व नागपंचमी मनाया जाएगा। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, नागपंचमी की पूजा करने से सुख-समृद्धि मिलती है, वहीं इस दिन की गई कुछ गलतियां जीवन भर का कष्‍ट देती हैं।

ज्योतिषाचार्य के अनुसार, नाग पंचमी के दिन कुछ काम नहीं करने चाहिए। इन्हें करने से भगवान सर्प के साथ भगवान शिव भी नाराज होते हैं। इसका असर सिर्फ व्यक्ति विशेष पर नहीं, बल्कि उनके परिवार की सात पीढ़ियों पर होता है। आइए जानते हैं वो 5 चीजें जो नाग पंचमी के दिन करने से बचना चाहिए।

नागपंचमी पूजा का मिलेगा दोगुना फल

नागपंचमी इस बार सोमवार के दिन पड़ रही है। सोमवार का दिन भगवान शिव को समर्पित है और सावन सोमवार का व्रत रखना, पूजा करना तो भोलेनाथ की अपार कृपा दिलाता है। ऐसे में कल 21 अगस्‍त 2023 सोमवार को नागपंचमी की व्रत-पूजा करने से दोगुना फल मिलेगा। नाग पंचमी के दिन सावन सोमवार भी है, जिससे व्रत रखने और शिवलिंग की पूजा करने से दोगुना लाभ होगा। साधक के सारे कष्‍ट दूर होंगे और उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी होंगी।

नागपंचमी के दिन ना करें ये गलतियां

  • नाग पंचमी के दिन भूलकर भी सांप को नहीं मारना चाहिए। सांप को नुकसान पहुंचाने पर भी बड़ा पाप लगता है। यह पाप आपकी 7 पीढ़ियों तक झेलना पड़ सकता है।
  • इस दिन सांप को भूलकर भी दूघ नहीं पिलाना चाहिए। दूध सांप के लिए जहर के समान होता है। इसे पाप लगता है।
  • नागपंचमी के दिन मिट्टी के नाग देवता का दूध से अभिषेक करें।
  • लोहे की कढ़ाई और लोहे के तवे का इस्‍तेमाल ना करें। माना जाता है कि ऐसा करने से नाग देवता को कष्‍ट होता है।
  • नागपंचमी के दिन चाकू, छुरी, सुई जैसी धारदार और नुकीली चीजों का इस्‍तेमाल ना करें।
  • भूमि की खुदाई करना या खेत में हल चलाना बेहद अशुभ होता है।