Sunday, July 14, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशMP में फिर चला आरोपियों के घर बुलडोजर, बैल अमानवीय क्रूरता के...

MP में फिर चला आरोपियों के घर बुलडोजर, बैल अमानवीय क्रूरता के बाद हत्या

MP News: मध्य प्रदेश के आगर मालवा जिले के बड़ोद थाना क्षेत्र में चार लोगों द्वारा एक बैल की जान लेने के मामले में एमपी सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है। आगर मालवा जिले के बड़ोद थाना अंतर्गत ग्राम सांगाखेड़ी मार्ग पर जत्ती हनुमान जी महाराज की बावड़ी के पास से बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां 4 आरोपियों द्वारा गोवंश के साथ अमानवीय क्रूरता की गई थी। जिसमें बैल की मौत हो गई थी। हिंदूवादी संगठनों के भारी विरोध के बाद जिला प्रशासन ने आरोपियों के घर पर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई की है।

बैल को पेड़ से बांधकर मार डाला

मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज करते हुए उनके मकान पर बुलडोजर चला दिया। पुलिस ने पशु क्रूरता अधिनियम सहित अन्य धाराओं के तहत आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है। बड़ोद थाना क्षेत्र के सांगाखेड़ी स्थित मार्ग पर एक बैल को पेड़ से बांधकर चार लोगों ने हत्या कर दी। आरोपियों को शक था कि बैल ने उनके खेत में फसलों पर का नुकसान पहुंचाया है। इसी आशंका के चलते चारों ने बेरहमी से बैल का कत्ल कर दिया। इस बात की जानकारी हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ता और नेताओं को लगी तो उन्होंने प्रदर्शन करते हुए आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। इसके अलावा आरोपियों के मकान भी गिरने की मांग उठाई गई। मंगलवार की सुबह आरोपी राहुल गुर्जर पिता मोहन गुर्जर, सोनू खान, दुर्गा शंकर गुर्जर पिता मोहन गुर्जर, रजाक पिता गनी मोहम्मद के घर पर बुलडोजर चला दिया गया। आरोपियों की गिरफ्तारी भी कर ली गई है. पुलिस का कहना है कि आरोपियों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है।

तहसीलदार पर भी गिरी गाज

बता दें कि गोवंश के साथ हुई अमानवीय क्रूरता को लेकर हिंदू संगठन के कार्यकर्ता गुस्सा हुए थे और आरोपियों के मकान पर बुलडोजर चलाने की मांग को लेकर 25 दिसंबर को बड़ोद में चक्का जाम किया गया था। बैल की हत्या के मामले में हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन करते हुए तहसीलदार प्रेम नारायण परमार के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग उठाई थी। इस मांग के चलते एसडीएम सत्यनारायण बैरवा ने तहसीलदार पटवारी को फिलहाल हटा दिया है। एसडीएम ने बताया कि आरोपियों के अपराध को देखते हुए उनके मकान पर जिला प्रशासन ने कार्रवाई की है।


RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments