Thursday, February 29, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशस्ट्रांग रूम, मतगणना स्थल की हर गतिविधि की सीसीटीवी से निगरानी

स्ट्रांग रूम, मतगणना स्थल की हर गतिविधि की सीसीटीवी से निगरानी

भोपाल । मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर 3 दिसंबर को होने वाली मतगणना को लेकर चुनाव आयोग ने राजधानी सहित प्रदेश के सभी जिलों में बनाए गए स्ट्रॉन्ग रूम में व्यापक तैयारियां की हैं। इस दौरान स्ट्रांग रूम और मतगणना स्थल पर सुरक्षा के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे लगाने के साथ सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। इसके साथ चुनाव आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारियों को मतगणना में खास सर्तकता बरतने के लिए कहा है।
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन के अनुसार स्ट्रांग रूम और मतगणना स्थलों की पल-पल की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए छह-छह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। जिनके जरिए मतगणना के दौरान की हर छोटी-बड़ी गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी। इसके साथ ही ईवीएम को स्ट्रॉन्ग रूम से मतगणना कक्ष तक पहुंचाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कॉरिडोर पर भी वीडियो कैमरे लगाए गए हैं। कैमरों को ऐसे स्थानों पर लगाया गया है, जिससे कि स्ट्रॉन्ग रूम से गणना कक्षों तक की हर गतिविधियों को रिकार्ड किया जा सके।

उम्मीदवार और एजेंट मोबाइल-पानी नहीं ले जा सकेंगे
मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी राजन के अनुसार मतगणना स्थल पर उम्मीदवार और उनके एजेंट के लिए तंबाकू, सिगरेट, बीड़ी, केलकुलेटर, पानी की बोतल और नाश्ता प्रतिबंधित रहेगा। इसके साथ घड़ी, मोबाइल फोन, आई पैड, लैपटॉप या ऐसे किसी भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को ले जाने की अनुमति नहीं होगी, जो ऑडियो-वीडियो रिकॉर्ड कर सकता है।

भीतर गए, तो फिर बाहर नहीं जा सकेंगे एजेंट
उम्मीदवारों के मतगणना एजेंटों को पहचान के लिए रिटर्निंग अधिकारी अलग-अलग बैज दिए जाएंगे। ताकि यह पता चल सके कि वह किस उम्मीदवार का एजेंट है। इसके साथ जिस मतगणना टेबल का जो एजेंट होगा, उस टेबल की संख्या भी दशाई जाएगी। इसके अलावा उम्मीदवारों के एजेंटों को मतगणना के दौरान मतगणना स्थल से बाहर जाना प्र्रतिबंध रहेगा। उन्हे नतीजे घोषित होने के बाद ही बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी।

भोपाल में पुरानी जेल में सुबह 8 से मतगणना
भोपाल में पुरानी जेल में बनाए मतगणना स्थल पर 3 दिसंबर को वोटों की गिनती होगी। सुबह 8 बजे से पोस्टल बैलेट की गिनती शुरू होगी। इसके बाद 8.30 बजे से ईवीएम में दर्ज मतों की गणना प्रारंभ होगी। मतगणना में 800 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

कर्मचारियों को 2 दिसंबर को मतगणना की ट्रेनिंग
भोपाल जिले की 7 विधानसभाओं की मतगणना के लिए तैनात किए गए कर्मचारियों-अधिकारियों को 2 दिसंबर को भोपाल के एमवीएम कॉलेज में दोपहर 12 से 3 बजे तक मतगणना की ट्रेनिंग दी जाएगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments