Tuesday, May 28, 2024
Homeट्रेंडिंगIndian Railway: ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर क्यों बना होता है 'X'...

Indian Railway: ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर क्यों बना होता है ‘X’ का निशान? जानें वजह..

Indian Railway: भारतीय रेल के बारे में जानने के लिए लोग उत्सुक रहते हैं. लेकिन भारतीय रेलअपने आप में इतनी जानकारियां समेटे हुए हैं कि इसका अध्ययन करने वालों के लिए जानकारियों की कमी नहीं है. कभी आपने गौर किया है कि किसी भी रेलवे प्लेटफॉर्म से जब यात्री गाड़ी छूटती है और आखिरी वाला डिब्बा गुजरता है तो उसके पीछे बड़े से अक्षरों में “x” लिखा दिखता है. सामान्य तौर पर बच्चे हो या बड़े सबकी नजर इस पर जाती तो है लेकिन इसके क्या मायने है? ये कोई नहीं जानता या फिर बहुत कम लोगों को इस “x” का मतलब पता होता है.

इससे पैसेंजर का कोई लेना देना नहीं

असल में यह निशान रेलवे के कर्मचारियों के लिए बना होता है. इससे पैसेंजर का कोई लेना देना नहीं होता है. इस निशान के माध्यम से स्टेशन पर तैनात रेलवे कर्मयारियों को यह पता चल जाता है कि पूरी ट्रेन गुजर चुकी है. इससे यह भी पता चलता है कि ट्रेन किसी भी हादसे का शिकार नहीं हुई और एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन पर सही सलामत पहुंची है.

क्या है सिक्योरिटी और सेफ्टी कोड

यह रेलवे का एक कोड है, जो सिक्योरिटी और सेफ्टी के हिसाब से ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर बनाया जाता है. इसके कई मायने हैं. किसी ट्रेन पर यह निशान नहीं है तो इसका मतलब होता है कि ट्रेन में कुछ प्रॉब्लम है या ट्रेन का कोई डिब्बा छूट गया है. यह रेलवे स्टाफ के लिए एक तरह से अलर्ट का काम करता है. ऐसा होने पर वे कुछ दुर्घटना होने के पहले कोई एक्शन ले सकते हैं.

जानें ट्रेन के डिब्बे में “x” का मतलब

  • ट्रेन के पिछले हिस्से में “X” का निशान देखने पर रेलवे कर्मचारियों-अधिकारियों को इस बात की पुष्टि हो जाती है कि ट्रेन सुरक्षित पूरी तरह से गुजर चुकी है और कोई कोच छूटा नहीं है.
  • दिन के समय “X” अक्षर का प्रयोग किया जाता है.रात में आखिरी कोच पर एक एलईडी लैंप लगा होता है,जो लगातार ब्लिंक होता रहता है.रात के अंधेरे में यह इस बात की पुष्टि करता है कि ट्रेन गुजर गई है.
  • यदि ट्रेन के अंतिम कोच में “X” चिन्ह नहीं है,तो यह ट्रेन के लिए एक आपातकालीन स्थिति की जानकारी है या फिर यह संकेत है कि ट्रेन के कुछ कोच पीछे से मिसिंग है.
  • उपरोक्त स्थिति में, यह रेलवे अधिकारियों को सतर्क रहने और दुर्घटना की स्थिति में त्वरित कार्रवाई करने में मदद करता है.वे अलग किए गए / छूटे हुए कोचों का पता लगाने और संबंधित ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक्शन लेने का प्लान अमल में ला सकते है.

इसके अतिरिक्त, ‘LV’ यानी लास्ट वेहिकल (काले बैकग्राउंड पर पीले रंग से लिखा) वाला एक छोटा बोर्ड भी होता है.यह बोगी के पिछले हिस्से से जुड़ा होता है,जो अंतिम वाहन (बोगी) को दर्शाता है तो अब आप भी जब रेल यात्रा करें तो ट्रेन के अंतिम डिब्बे में बने “x” निशान को जरूर देखें.यह आपकी यात्रा के दौरान सुरक्षा से जुड़ा एक चिन्ह है

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments