Thursday, February 29, 2024
Homeबिज़नेस2024 में NPCI ने UPI टैप ऐंड पे सुविधा की प्रक्रिया शुरू...

2024 में NPCI ने UPI टैप ऐंड पे सुविधा की प्रक्रिया शुरू की, मशीन छूने से होगा पेमेंट

UPI: यूपी आई के जरिए भुगतान करने वालों ग्राहकों को जल्द ही टैप एंड पे की सुविधा मिलेगी। इसके तहत अपने मोबाइल को पेमेंट मशीन से छूना होगा और भुगतान स्वत: हो जाएगा। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NPCI) ने यह सेवा उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। माना जा रहा है कि यह सुविधा 31 जनवरी 2024 तक मिलने लगेगी। अगर कोई यूजर टैप सुविधा के लिए यूपीआई लाइट खाता शुरू करता है तो 500 रुपये से कम मूल्य का लेनदेन इस सेकर सकता है। 500 से अधिक के भुगतान पर पिन डालने की जरूरत होगी। बताया जा रहा है कि इस संबंध में निगम ने एक परिपत्र जारी किया है और डिजिटल भुगतान सेवा प्रदान करने वाली कंपनियों से जल्द इस सुविधा को पेश करने को कहा है। हालांकि, तय की गई समयसीमा कंपनियों के लिए अंतिम मियाद नहीं है। यूपी आई सेवा देने वाली कंपनियां कभी भी अपने ऐप पर यूपी आई-टैप एंड पे की सुविधा शुरू कर सकती हैं। फिलहाल यह सेवा गूगल पे, भीम ऐप और पेटीएम पर कुछ चुनिंदा ग्राहकों को मिल रही है।

आरबीआई ने की थी घोषणा

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस साल सितंबर में ग्लोबल फिनटेक फेस्ट में अन्य नई डिजिटल भुगतान सुविधाओं के बीच यूपीआई टैप और पे फीचर लॉन्च करने की घोषणा की थी। इससे पहले भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम ने यूपीआई पर बोलकर (हैलो यूपीआई) और बिना इंटरनेट भुगतान की सुविधा दी थी। शुरुआत में 500 रुपये का भुगतान: अगर कोई यूजर टैप सुविधा के लिए यूपीआई लाइट खाता शुरू करता है तो 500 रुपये से कम मूल्य का लेन देन इससे कर सकता है। 500 रुपये से अधिक के भुगतान पर पिन डालने की आवश्यकता होगी। वहीं, व्यापारियों को यूपीआई स्मार्ट क्यूआर अथवा ऐसेटैग की जरूरत होगी, 31 दिसंबर के बाद गूगल पे, फोन पे, पेटीएम से नहीं कर पाएंगे UPI पेमेंट!

ऐसे करना होगा इस्तेमाल

ऐसे करना होगा इस्तेमाल इस सुविधा में मोबाइल फोन से क्यूआर कोड को स्कैन करने की आवश्यकता नहीं होगी। ग्राहक को बस क्यूआर कोड मशीन या पेमेंट मशीन से मोबाइल को छूना (टैप) होगा। इसके बाद भुगतान हो जाएगा। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए मोबाइल में एनएफसी का होना जरूरी है ।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments