Monday, February 26, 2024
Homeबिज़नेसPaytm ने की बड़ी छंटनी, 1 हजार से ज्यादा लोगों को नौकरी...

Paytm ने की बड़ी छंटनी, 1 हजार से ज्यादा लोगों को नौकरी से निकाला

Paytm Q2 Results : देश के सबसे बड़े डिजिटल पेमेंट प्लेटफॉर्म्स में से एक पेटीएम में बड़े पैमाने पर छंटनी की खबर है। पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस ने 1000 से ज्यादा लोगों को नौकरी से निकाल दिया है। एक बार फिर साल 2023 के आखिरी महीने में भी छंटनी का दौर देखने को मिलने वाला है। बता दें कि आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से नौकरियों पर पड़ने वाले असर की झलक भी दिखनी शुरू हो गई है। साल की आखिरी महीने में पेटीएम से 1000 से ज्यादा लोगों को बाहर किए जाने की खबर सामने आई है। मिली जानकारी के मुताबिक पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस ने 1000 से ज्यादा लोगों को नौकरी से निकालने का फैसला लिया है। इसके साथ ही बीते कुछ महीनों में अलग-अलग यूनिट से छंटनियां की गई हैं।

10% को लोगों को नौकरी से निकालने का फैसला किया

कंपनी ने कुल कर्मचारियों के 10% को लोगों को नौकरी से निकालने का फैसला किया है। इसके अलावा कंपनी ने अपने स्मॉट-टिकट कंज्यूमर लैंडिंग और ‘बाय नाउ पे लेटर’ में भी बदलाव किया है। RBI के अनसिक्योर लोन्स के फैसले को देखते हुए भी ऐसा किया गया है। कुछ समय पहले ही कंपनी ने कहा था कि वह अब छोटे लोन्स देने बंद करने जा रही है। यानी अब सिर्फ बड़े लोन्स देने पर ही काम किया जाएगा। Paytm के इस फैसले ने कई लोगों को चिंता बढ़ा दी है। अब माना जा रहा है कि कंपनी लोन सेक्शन से भी छंटनी कर सकती है। क्योंकि अब लोन के नियमों में बदलाव हुआ है और इसका सीधा असर कंपनी के बिजनेस पर भी पड़ेगा। फिलहाल कंपनी ने तरफ से इस पर कोई ऑफिशियल बयान तो नहीं आया है। सीधी बात है कि इससे कंपनी के वर्कफोर्स भी सीधा असर पड़ेगा। यानी पेटीएम अब पैसे बचाने पर ज्यादा ध्यान दे रही है।

RBI की नई गाइडलाइंस बनी छंटनी की वजह

बता दें कि पेटीएम के छंटनी की वजह‘ Buy Now Pay Later’ की सर्विस को बंद करने और छोटे साइज का लोन देने के बिजनेस को बंद करना बताया जा रहा है। इसकी एक वजह भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) भी बताई जा रही है। दरअसल देश में बढ़ते अन-सिक्योर्ड लोन को कम करने के लिए नई गाइडलाइंस जारी की थीं। इसके बाद बैंकों के क्रेडिट कार्ड देने, पर्सनल लोन बांटने और अधिकतर इलेक्ट्रॉनिक्स की खरीद के लिए इस्तेमाल होने वाली ‘बाय नाउ पे लेटर’ सर्विस पर पड़ा है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो ये सबसे बड़ी छंटनियों में से एक मानी जा रही है। पेटीएम में छंटनी की खबर ऐसे समय में आई है जब स्टार्टअप सबसे ज्यादा फंडिंग ईशू का सामना कर रहे हैं। 2023 के फर्स्ट थ्री क्वार्टर में करीब 28 हजार कर्मचारियों को स्टार्टअप ने नौकरियों से निकाला है। जबकि 2022 में ये आंकड़ा 20 हजार और 2021 में 4080 का था। वेल्थ मैनेजमेंट करने के लिए पेटीएम की तरफ से लगातार नए फैसले लिए भी जा रहे हैं और ये एक ऐसा ही बड़ा फैसला माना जा रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments