Friday, June 14, 2024
Homeबिज़नेसपीएम मोदी 30 दिसंबर को अयोध्या में लांच करेंगे अमृत भारत एक्सप्रेस,...

पीएम मोदी 30 दिसंबर को अयोध्या में लांच करेंगे अमृत भारत एक्सप्रेस, जानें फीचर्स और रूट

Amrit Bharat Express: सभी यात्रियों और भक्तों को एक सहज यात्रा अनुभव कराने के लिए, अयोध्या (Ayodhya) अपनी पहली अमृत भारत एक्सप्रेस शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार है। सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) 5 नई वंदे भारत ट्रेन (Vande Bharat Train) के साथ दो नई अमृत भारत ट्रेन (Amrit Bharat Train) को हरी झंडी दिखाने के लिए 30 दिसंबर को अयोध्या पहुंचेंगे। केंद्रीय रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwani Vaishnaw) ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर सोमवार को अमृत भारत ट्रेन रैक का निरीक्षण किया।

अश्विनी वैष्णव ने अमृत भारत ट्रेनों में इस्तेमाल की गई आधुनिक और उन्नत तकनीक की सराहना की। उन्होंने बताया कि अमृत भारत ट्रेन पुश-पुल तकनीक (Push Pull Technology) पर आधारित है। नए भारत की यह ट्रेन बनकर तैयार हो चुकी है। ये नॉन-AC ट्रेन में चार्जिंगर्जिं पॉइंट और स्लाइडिंग विंडो ग्लास के साथ फोन होल्डर से लैसलै , वंदे भारत एक्सप्रेस के इस स्लीपर संस्करण में कई विशेषताएं हैं। यह पहली बार है कि अमृत भारत ट्रेन लॉन्च होने जा रही है। हम शुरुआत में दो सेट के साथ जाने के लिए तैयार हैं, जिनमें से एक अयोध्या से होगा।”

अमृत भारत एक्सप्रेस का रूट

सभी ट्रेनों में से एक अमृत भारत एक्सप्रेस अयोध्या-दरभंगा मार्ग पर चलेगी, जो उपरोक्त तिथि पर अयोध्या रेलवे स्टेशन से प्रस्थान करेगी। जबकि दूसरा दक्षिण भारत में सेवा प्रदान करेगा। बाकी वंदे भारत ट्रेनों के रूट बाकी वंदे भारत ट्रेनों की बात करें, तो ये अलग अलग रूट पर चलेंगी, जिनमें से एक अयोध्या से आनंद विहार (दिल्ली) को जोड़ेगी। दूसरे रूट में वैष्वैणो देवी से नई दिल्ली, जालना से मुंबई , कोयंबटूर से बेंगलुरु, अमृतसर से दिल्ली और मंगलुरु सेंट्रल से मडगांव शामिल हैं। अमृत भारत एक्सप्रेस के बारे में सब कुछ आधिकारिक विवरण के अनुसार , नॉन-AC अमृत भारत एक्सप्रेस में 22 कोच होगी, जिसमें 12 सेकंड क्लास 3-टियर AC कोच, 8 जनरल सेकंड क्लास कोच और दो गार्ड डिब्बे होंगे।
गार्ड डिब्बों में अलग-अलग कोच होंगे, जिनमें महिलाओं और दिव्यांग यात्रियों के लिए जगह होगी। ट्रेन औसतन 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। हालांकि, ट्रैक के आधार पर गति में उतार-चढ़ाव हो सकता है। भविष्य में अयोध्या का ट्रेन नेटवर्क इस बीच, बेहतर कनेक्टिविटी देने और अयोध्या के ट्रेन नेटवर्क को बढ़ाने के लिए रेलवे जल्द ही एक मेगा योजना पेश करने जा रहा है।

मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत बनी अमृत भारत एक्सप्रेस

उन्होंने बताया कि वंदे भारत और अमृत भारत एक्सप्रेस में दुनिया की दो सबसे खास टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया गया है। मेक इन इंडिया प्रोग्राम (Make in India) के तहत दोनों ही टेक्नोलॉजी भारत में बनी हैं। रेल मंत्री ने बताया कि पहली दो अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेन नॉन एयर कंडीशनर हैं। इनमें पैसेंजर्स के लिए लगेज वाली बर्थ में भी कुशन लगा है। हर सीट पर चार्जिंग प्वाइंट्स और एक खास रैंप डिजाइन की गई है, जिसकी मदद से व्हीलचेयर को आसानी से कोच में प्रवेश करवाया जा सकता है।

अमृत भारत एक्सप्रेस में होंगे 22 कोच

अमृत भारत में सभी सुविधाएं वंदे भारत ट्रेन वाली ही होंगी। इस ट्रेन में 8 जनरल सेकंड क्लास कोच, 12 सेकंड क्लास 3-टियर स्लीपर कोच और 2 गॉर्ड कंपार्टमेंट समेत कुल 22 कोच होंगे। इस ट्रेन में सीसीटीवी कैमरा, आधुनिक शौचालय, सेंसर वाले वाटर टैप और अनाउंसमेंट सिस्टम भी होगा। इस ट्रेन में कुल 1800 यात्री सफर कर सकेंगे। अमृत भारत ट्रेनों का निर्माण चेन्नई में इंटीग्रल कोच फैक्ट्री (ICF) में किया गया है।

वैष्णो देवी समेत 5 नई वंदे भारत ट्रेनें भी होंगी शुरू

पीएम मोदी 30 दिंसबर को 2 अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेनों के साथ ही 5 वंदे भारत ट्रेनों को भी देश को समर्पित करेंगे। इनमें में अयोध्या-आनंद विहार, नई दिल्ली-वैष्णो देवी, अमृतसर-नई दिल्ली, जालना-मुंबई और कोयंबटूर-बेंगलुरू वंदे भारत शामिल हैं।

सितंबर में एक साथ लांच हुई थीं 9 वंदे भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (24 सितंबर) को 9 नई वंदे भारत ट्रेनों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक साथ हरी झंडी दिखाई थी। ये ट्रेनें राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, बिहार, पश्चिमी बंगाल, केरल, ओडिशा, झारखंड और गुजरात के लिए लांच की गई थीं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments