Saturday, May 25, 2024
Homeलाइफस्टाइलRoom Heater: कमरे में हीटर या अंगीठी जलाकर सोना हो सकता है...

Room Heater: कमरे में हीटर या अंगीठी जलाकर सोना हो सकता है जानलेवा, इस्तेमाल से पहले जान लें इसके नुकसान

Room Heater Use Tips: बढ़ती हुई सर्दी से बचने के लिए बहुत से लोग कमरे में हीटर जलाकर सोते है लेकिन बंद कमरे में हीटर जलाकर सोना जानलेवा हो सकता है। इससे आपकी बॉडी के ऊपर बहुत बुरा असर पड़ सकता है। बंद कमरे में हीटर जलाने से कई जहरीली गैसें निकलती हैं, जो जानलेवा साबित हो सकती हैं।ज्यादातर लोग ठंड से बचाने के घर के अंदर अलाव और हीटर आदि का सहारा लेकर ठंड को कम करते है। बंद कमरे में हीटर, जलाने से गर्मी बढ़ने से धीरे-धीरे कमरे में आक्सीजन खत्म हो जाती है और कार्बन मोनोआक्साइड अत्यधिक बढ़ जाती है। यह गैस सांस के माध्यम से फेफड़ों तक पहुंच कर खून में मिल जाती है। इससे खून में हीमोग्लोबिन का स्तर घट जाता है, जिससे व्यक्ति की मौत हो जाती है।

अगर आप ब्लोअर या हीटर का प्रयोग करते हैं तो इसे थोड़े समय के लिए ही करें गर्म कमरे से एकाएक बाहर जाने पर भी बीमार पड़ सकते हैं, अत: हीटर से हटकर कुछ देर समय गुजारें, तब बाहर जाएं। आपके घर-परिवार में इस तरह की को कोई घटना न हो इसके लिए सर्दियों में अंगीठी या फिर हीटर जलाते हुए इन बातों का जरूर ध्यान रखें। सर्दी से बचने के लिए बंद कमरे में हीटर का प्रयोग जानलेवा हो सकता है। अगर आप भी अपने घर में ऐसा करते हैं तो सावधान हो जाएं।

हीटर या अंगीठी जलाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

हीटर या फिर अंगीठी को बंद कमरे में जलाने पर रूम के अंदर की ऑक्सीजन खत्म हो जाती है और अंदर सोने वाले शख्स का दम घुटने लगता है जिसकी वहज से लोगों की मौत तक हो सकती है।
खुले कमरे में भी इसका इस्तेमाल सेफ नहीं है क्योंकि यह आपको दमे का मरीज बना देती है।
बंद रूम के भीतर हीटर चलाने से हवा ड्राई हो जाती है और जब बार-बार गर्म हवा आखों पर लगती है इसे आंखों की रोशनी पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसके चलते आंखों की नमी भी कम हो जाती है।
कमरे में हवा की नमी से बॉडी ठीक रहती है लेकिन जब यह हवा ड्राई होती है तो इससे स्किन में खुजली भी होने लगती है।
रात में अंगीठी जलाकर सोते हुए आग लगने का भी खतरा बना रहता है। अंगीठी जलाने से कमरे की हवा जहरीली हो जाती है और आप कार्बन मोनो ऑक्साइड का शिकार होते हैं जो इंसानों के लिए बेहद खतरनाक होती है।
सांस व किडनी के मरीज अंगीठी का इस्तेमाल बिल्कुल न करें।

विशेषज्ञों के अनुसार

नेत्र विशेषज्ञों के अनुसार सर्दी से बचाव के लिए लोग रूम हीटर का उपयोग कर रहे हैं, लेकिन लोगों को जानकारी नहीं है कि रूम हीटर कमरे में मौजूद ऑक्सीजन को खींचकर उसे जला देता है। इससे कमरा गर्म हो जाता है, लेकिन ऑक्सीजन की कमी हो जाती है। रूम हीटर कमरे में ऑक्सीजन का स्तर घटाने के साथ ही नमी भी खत्म कर देता है। इससे आंखों की नमी भी खत्म हो सकती है और आंखों में ड्राइनेस आ जाती है।


RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments