Sunday, July 21, 2024
Homeदेशदिवाली और छठ से पहले रेलवे ने दिया तोहफा, दिल्ली-पटना के लिए...

दिवाली और छठ से पहले रेलवे ने दिया तोहफा, दिल्ली-पटना के लिए चलेगी स्पेशल वंदे भारत ट्रेन

Delhi-Patna Vande Bharat: दिवाली और छठ से पहले रेलवे ने दिया तोहफा फेस्टिव सीजन की शुरुआत के साथ रेलवे ने इस साल दिवाली छठ के लिए 283 स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया है। इसमें एक स्पेशल वंदे भारत ट्रेन भी शामिल है । दिवाली और छठ पूजा के समय यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए भारतीय रेलवे ने पहली बार स्पेशल ट्रेन के रूप में वंदेभारत एक्सप्रेस को भी चलाने का फैसला लिया है। नई दिल्ली-पटना और पटना-नई दिल्ली के लिए वंदे भारत स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी।

दिल्ली-पटना के लिए स्पेशल वंदे भारत

त्योहारों के समय में यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए भारतीय रेलवे ने स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला किया है। खास बात यह है कि दिवाली और छठ पूजा के दौरान घर जाने वाले यात्रियों के लिए पहली बार स्पेशल ट्रेन के रूप में वंदेभारत एक्सप्रेस को शामिल किया गया है। नई दिल्ली-पटना के लिए वंदे भारत स्पेशल ट्रेन चलाई जाएगी। 16 कोच वाली वंदे भारत एक्सप्रेस करीब साढ़े 11 घंटे में नई दिल्ली से पटना का सफर तय करेगी।

वंदेभारत ट्रेन कब-कब चलेगी?

वंदेभारत एक्सप्रेस 11, 14 और 16 नवंबर को नई दिल्ली स्टेशन से सुबह 7:25 बजे चलकर शाम 7 बजे पटना पहुंचेगी। 994 किलोमीटर लंबा यह सफर वंदेभारत करीब 11 घंटे 35 मिनट में पूरा करने की संभावना है। वापसी में 12, 15 और 17 नवंबर को पटना से सुबह 7:30 बजे चलेगी और शाम 7 बजे नई दिल्ली पहुंचने की संभावना है। इस दौरान वंदेभारत एक्सप्रेस प्रयागराज जंक्शन पर 5 मिनट और अन्य स्टेशनों पर केवल 2 मिनट रुकेगी। वंदेभारत एक्सप्रेस रास्ते में कानपुर, प्रयागराज, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, बक्सर और आरा स्टेशन पर दोनों दिशाओं में रुकेगी। नई दिल्ली से पटना के बीच यह गाड़ी नवंबर में कुल छह बार फेरे लगाएगी।

52 स्पेशल ट्रेनों को मंजूरी

रेलवे के मु्ताबिक, दिवाली और छठ पर्व मनाने के लिए दिल्ली से लाखों यात्री अगले महीने बिहार, झारखंड और उत्त प्रदेश अपने घर जाएंगे। हर साल रेलवे उनके लिए पूजा स्पेशल रेलगाड़ियां चलाता है। इस साल भी अभी तक 52 स्पेशल ट्रेनों के परिचालन को मंजूरी दी जा चुकी है। यह ट्रेनें दोनों दिशाओं से कुल 522 फेरे लगाएंगी। इनके जरिए लगभग 10 लाख लोगों के लिए सीट की व्यवस्था की जा चुकी है। इसके साथ ही कुछ अन्य ट्रेनों का परिचालन करने को लेकर भी तैयारी चल रही है। सूत्रों की मानें तो इस साल उत्तर रेलवे यात्रियों के लिए लगभग 18 लाख सीट उपल्बध कराने का प्रयास कर रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments