Wednesday, February 21, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशMP: अनुभव के आधार पर मंत्रियों को मिले विभाग, ज्यादातर मंत्री कल...

MP: अनुभव के आधार पर मंत्रियों को मिले विभाग, ज्यादातर मंत्री कल संभालेंगे पदभार

MP News: मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से चर्चा करने के बाद बीती रात मंत्रियों को विभागों का बंटवारा कर दिया है। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने गृह, सामान्य प्रशासन, जनसंपर्क और नर्मदाघाटी जैसे बड़े और महत्वपूर्ण विभाग अपने पास ही रखे हैं। इसके साथ ही अन्य मंत्रियों को उनके अनुभव के आधार पर विभागों को बंटवारा करा दिया है। हालांकि कई नए मंत्रियों को बड़े-बड़े विभागों की जिम्मेदारी सौंपी गई है। कल सोमवार को अंग्रेजी नववर्ष का पहला दिन भी है। बताया जा रहा है कि कल सोमवार को अधिकांश मंत्रियों के विभाग संभालने की संभावना है। वहीं नया साल मनाने जो मंत्रीगण भोपाल शहर से बाहर हैं, वे जब भोपाल पहुंचेंगे तक विभागों की जिम्मेदारी संभालेंगे। कैलाश विजयवर्गीय को नगरीय प्रशासन एवं विकास और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल को पंचायत एवं ग्रामीण विकास दिया गया है।

उप मुख्यमंत्रियों को भी मिले बड़े विभाग

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सरकार चलाने वाले बड़े विभागों को अपने पास रखा है। वहीं दोनों उप मुख्यमंत्रियों जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुुक्ल को भी बड़े-बड़े विभागों की जिम्मेदारी सौंपी है। जगदीश देवाड़ा के पास वित्त, वाणिज्यककर, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग दिया गया है। वहीं राजेंद्र शुक्ल के पास लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और चिकित्सा शिक्षा विभाग जैसे बड़े विभाग सौंपे गए हैं। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने कानून व्यवस्था जैसे गृह, सामान्य प्रशासन विभाग समेत सभी बड़े विभाग अपने पास रखे हैं। इसके अलावा समान्य प्रशासन विभाग, खनिज, जनसंपर्क, उद्योग नीति एवं निवेश इन विभागों से ही सरकार चलती है। इनसे ही इमेज भी बनती है। सामान्य प्रशासन विभाग मुख्यमंत्री अपने पास ही रखते है।

इन मंत्रियों को मिले यह विभाग

मुख्यमंत्री डॉ. मोहन कैबिनेट के दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय को उनकी च्वाइंस के अनुसार नगरीय विकास एवं प्रशासन विभाग का मंत्री बनाया गया है। पिछली सरकार में यह विभाग सीएम के करीबी पूर्व मंत्री भूपेंद्र सिंह के पास था। शहरी विकास का जिम्मा इसी विभाग पर हैं। भोपाल और इंदौर में मेट्रो का काम चल रहा है। वहीं, आने वाले समय जबलपुर और ग्वालियर में भी मेट्रो का संचालन होना है। इसकी घोषणा भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में भी की है। इसके अलावा नगरीय विकास विभाग में कई केंद्र समथिज़्त योजनाएं चल रही है। अब सीएम ने उनका सफल क्रियान्वयन की जिम्मेदारी कैलाश विजयवर्गीय को दी है। इस विभाग का बजट भी सबसे ज्यादा रहता है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल को डॉ. मोहन कैबिनेट में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री बनाया गया है। यह बड़ा विभाग हैं। ग्रामीण क्षेत्रों का विकास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकताओं में हैं। राज्य के साथ ही केंद्र सरकार से भी ग्रामीण विकास के लिए बड़ा बजट आता है। केंद्र और राज्य सरकार की योजनाओं को ग्रामीण क्षेत्र तक ले जाना बड़ी जिम्मेदारी होगी। हालांकि विभाग में मंत्री को कोई ज्यादा पॉवर ज्यादा नहीं हैं। इससे पहले प्रहलाद पटेल को गृह विभाग देने के कयास लगाए जा रहे थे। पूवज़् सांसद राकेश सिंह को लोक निमाज़्ण विभाग और पूर्व सांसद राव उदय प्रताप को परिवहन और स्कूल शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी सौंपी है। जानकारों का कहना है कि वरिष्ठ नेताओं को उनके अनुभव के आधार पर विभाग का बंटवारा किया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments