Saturday, May 18, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशमप्र में बुजुर्गों और दिव्यांगों के मतदान का सिलसिला जारी रहा, वोटिंग...

मप्र में बुजुर्गों और दिव्यांगों के मतदान का सिलसिला जारी रहा, वोटिंग के लिए घर-घर जा रहे कर्मचारी, तीन दिन चलेगी प्रक्रिया

MP Election 2023: मप्र विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होना शुरू हो चुकी है। सोमवार से शुरू हुआ बुजुर्गों और दिव्यांगों की मतदान का सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। अधिकारी और कर्मचारी बुजुर्गों और दिव्यांगों से घर जाकर मतदान करवा रहे हैं। जिले में सातों विधानसभा क्षेत्रों के लिए 80 वर्ष से अधिक उम्र के बुगुर्ज और दिव्यांग मतदाताओं द्वारा मंगलवार से घर से मतदान की प्रक्रिया शुरू हो गई है। मतदान प्रक्रिया के लिए 13 नवंबर अंतिम दिन है, लेकिन जिले में तीन दिन का लक्ष्य रखा गया है। प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरी कराने के लिए 113 टीमों का गठन किया गया है। मतदाताओं द्वारा बैलट पेपर से मतदान किया जा रहा है।

भारत निर्वाचन आयोग ने 80 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों और दिव्यांग मतदाताओं को घर बैठे मतदान की सुविधा उपलब्ध कराई है। जिले में दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं के मतदान का सिलसिला सोमवार से ही प्रारंभ हो गया। यह सिलसिला 9 नवंबर तक जारी रहेगा। सम्पूर्ण मतदान प्रकिया की गोपनीयता एवं सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मतदान प्रकिया की विडियो रिकार्डिंग कराई जा रही है।

प्राप्त मतपत्र के लिफाफों को सुरक्षा के बीच जिला कोषालय में जमा कराया

इंदौर में दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं के मतदान का सिलसिला दूसरे दिन मंगलवार को भी जारी रहा। जिले में पहले दिन सोमवार को 1884 बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। मंगलवार को यह सूचना दी गई। यह सिलसिला 9 नवंबर तक जारी रहेगा। सोमवार को मतदान दलों को मतदान सामग्री का वितरण अटल बिहारी वाजपेई कॉलेज (आर्टस एण्ड कॉमर्स कॉलेज) इंदौर से किया गया। आज 7 नवंबर से मतदान दलों को कलेक्टर कार्यालय से मतदान सामाग्री का वितरण किया गया है। मतदान के पश्चात वापस मतदान सामग्री कलेक्टर कार्यालय में ही जमा की जाने की व्यवस्था की गई है। सोमवार को प्राप्त मतपत्र के लिफाफों को सुरक्षा के बीच जिला कोषालय में जमा कराया गया। अभ्यर्थियों को पोस्टल बैलेट के जमा होने तथा प्राप्त करने की जानकारी रिटर्निंग अधिकारी द्वारा दी जा रही है। अभ्यर्थी चाहें तो अपना प्रतिनिधि (जिसमें बी.एल.ए. भी शामिल हैं) इस प्रकिया को देखने के लिए नियुक्त कर सकते हैं। इसकी सूचना अभ्यर्थी रिटर्निंग अधिकारी को देना होगी। मतदाताओं को बी.एल.ओ. के माध्यम से मतदान के दिनांक एवं समय की सूचना पृथक से दी जा रही है। राजनीतिक दलों/अभ्यर्थियों या उनके अधिकृत व्यक्ति उपस्थित रह सकेंगे। उल्लेखनीय है कि जिले में 4 हजार 666 दिव्यांग एवं बुजुर्ग मतदाताओं ने घर से मतदान करने का विकल्प चुना गया है।

शाम पांच बजे तक कर सकेंगे मतदान

इसके लिए कुल 113 टीमों का गठन किया गया है। यह मतदान प्रक्रिया तीन दिन तक सुबह नौ से शाम पांच बजे तक होगी। हालांकि घर से मतदान की अंतिम तारीख 13 नवंबर है, लेकिन हमने तीन दिन का लक्ष्य रखा है। इसके बारे में सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को भी बताया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments