Saturday, December 10, 2022
Homeसंपादकीयमध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस को लग सकता है...

मध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस को लग सकता है बड़ा झटका

भारत जोड़ो यात्रा : पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में निकाली जा रही भारत जोड़ो यात्रा ठीक आठ दिन बाद यानी 20 नवंबर की रात बुरहानपुर के रास्ते मध्य प्रदेश की सीमा में प्रवेश करेगी। यात्रा को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं में उत्साह का माहौल है। मप्र कांग्रेस कमेटी पूरी ताकत से भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों में जुटी है। प्रदेश में अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारत जोड़ो यात्रा से मप्र कांग्रेस बड़ी उम्मीद लगाए हुए है। कांग्रेस को इस बात का भरोसा है कि यात्रा से पूरे प्रदेश में उसके पक्ष में चुनावी माहौल बन सकता है। हालांकि यात्रा के दौरान कांग्रेस को बड़ा झटका लग सकता है। निमाड़-मालवा अंचल के कुछ बड़े कांग्रेस नेता पाला बदलकर भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इसकी वजह भी है, क्योंकि गत जुलाई में हुए राष्ट्रपति चुनाव में अंतरात्मा की आवाज पर कांग्रेस के 19 आदिवासी विधायकों ने क्रॉस वोटिंग कर एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के समर्थन में मतदान किया था, जबकि कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए ने यशवंत सिन्हा को उम्मीदवार बनाया था।

भाजपा इस कोशिश में है कि कांग्रेस के कुछ नेताओं का दल बदल कराकर भारत जोडो यात्रा को लेकर कांग्रेस के उत्साह को कम किया जाए। कांग्रेस ने उसके नेताओं के पाला बदलने की खबरों को अफवाह बताया है। हालांकि पार्टी ने अपने जिला अध्यक्षों और जिला प्रभारियों को संदिग्ध नेताओं की गतिविधियों पर नजर रखने को कहा है। गौरतलब है कि प्रदेश में डेढ़ दशक बाद कांग्रेस को वर्ष 2018 में सत्ता हासिल हुई थी, लेकिन अपनों के ही दलबदल करने से कमलनाथ के नेतृत्व वाली सरकार गिर गई थी। अगले साल विधानसभा चुनाव हैं और कांग्रेस एक बार फिर सत्ता में वापसी के लिए पूरी ताकत लगा रही है। कांग्रेस चुनाव के मद्देनजर भारत जोड़ो यात्रा को अपने लिए संजीवनी के रूप में देख रही है।

कांग्रेस जता चुकी है उपद्रव की आशंका

ग्वालियर जिले की सीमा पर विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह की भारत जोड़ो यात्रा में फायरिंग की कोशिश की घटना के बाद कांग्रेस आरोप लगा चुकी है कि भाजपा यात्रा में उपद्रव करा सकती है। एक दिन पूर्व वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने एक साथ बयान जारी कर इसकी आशंका जताई थी। भारत जोड़ो यात्रा के मध्य प्रदेश के समन्वयक पीसी शर्मा का कहना है कि भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस नेताओं के भाजपा में शामिल होने की अफवाह उड़ रही है, लेकिन इसमें कोई दम नहीं है, क्योंकि पहले जो लोग कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए हैं, उन गद्दारों का क्या हाल हो रहा है, यह सभी के सामने है। कई दलबदलू कांग्रेस में वापसी के प्रयास कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

Join Our Whatsapp Group