Sunday, July 14, 2024
Homeलाइफस्टाइलYoga Tips: याददाश्त बढ़ाना चाहते हैं, तो रोजाना करें ये योगासन

Yoga Tips: याददाश्त बढ़ाना चाहते हैं, तो रोजाना करें ये योगासन

Yoga Tips: शरीर को स्वस्थ रखने के साथ ही दिमाग को भी स्वस्थ रखना ज़रूरी है। आयुर्वेद में दिमाग तेज करने के लिए योग करने की सलाह दी जाती है। योग से ना सिर्फ शारीरिक समस्याओं से छुटकारा मिलता है बल्कि विभिन्न प्रकार की मानसिक समस्याओं से भी निजात मिलता है। योग से मन को एकाग्र करने में मदद मिलती है। दिमाग तेज करने के लिए योग सबसे कारगर है। योग के नियमित अभ्यास से मस्तिष्क को आराम मिलता है और शरीर भी स्वस्थ रहता है। उम्र बढ़ने के कारण भी याददाश्त की समस्या होती है। ऐसे में आप अपने दिमाग और मन को शांत करने के लिए कुछ आसान योगासन कर सकते हैं। आज आपको याददाश्त और एकाग्रता को बेहतर बनाने के लिए कुछ योग आसन के बारे में बताएंगे। आइये जानते हैं….

पद्मासन (Padmasana)

पद्मासन को कमल मुद्रा आसन भी कहा जाता है, जो हमारी मांसपेशियों के तनाव को कम करके, दिमाग को शांत करता है। यह आसन एक्टिव करने के साथ-साथ और दिमाग की सेहत में भी सुधार करता है। इसे करने से शरीर को काफी आराम मिलता है।

शीर्षासन (Sirsasana)

शीर्षासन को हैंडस्टैंड भी कहा जाता है। हमारे ब्रेन तक ब्लड के प्रवाह को पहुंचाने के लिए यह सबसे महत्वपूर्ण आसान है। जिसकी मदद से हमारा ब्रेन स्वस्थ रहता है और लंबे वक्त तक अच्छी तरह से काम कर सकता है। इसे सभी आसनों का राजा भी कहा जाता है। जब आप शीर्षासन करते हुए सांस छोड़ते हैं, तो यह आपके शरीर से तनाव को भी बाहर करता है और पाचन तंत्र में सुधार करता है।

बकासन (Bakasana)

बकासन शरीर में संतुलन और फ्लेक्सिबिलिटी को बढ़ाने का काम करता है। इस आसन को करने के लिए शरीर के आवश्यक अंगों को एक साथ काम करना होता है, जिसके लिए एकाग्रता की भी आवश्यकता होती है। इस आसन से हाथों का संतुलन बनाने के लिए कलाई, बांह, पीठ का ऊपरी हिस्सा और कंधे में भी ताकत बढ़ती है। इस आसन को पूरा करना उपलब्धि से कम नहीं है।

पादहस्तासन (Padahastasana)

पादहस्तासन एकाग्रता बढ़ाने के लिए सबसे अच्छे आसनों में से एक है। इसे करने से पेटी की चर्बी को कम करने के साथ-साथ पाचन तंत्र में भी सुधार होता है। इस आसान से हमारा ब्रेन एक्टिव होता है और उसमें ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है। जिससे हमारी याददाश्त तेज होती है।

पश्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana)

पश्चिमोत्तानासन करने के दौरान जब हम बैठकर आगे की ओर झुकते हैं तो इससे हमारी एकाग्रता और ब्रेन में ब्लड का सुर्कलेशन बढ़ता है। जिससे दिमाग को शांति मिलती है और याददाश्त में सुधार होता है। जो लोग सिरदर्द की समस्या से परेशान हैं, उनके लिए भी यह आसन बहुत फायदेमंद है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments