Sunday, February 25, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेश10वीं-12वीं की परीक्षा ज्यादा हल करने होंगे छोटे-छोटे प्रश्न

10वीं-12वीं की परीक्षा ज्यादा हल करने होंगे छोटे-छोटे प्रश्न

भोपाल । मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की ओर से आयोजित की जाने वाली 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा इस बार छोटे-छोटे ज्यादा प्रश्न हल करने होंगे। परीक्षा पांच फरवरी से शुरू हो जाएंगी। इस बार परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्नों की संख्या कम रहेगी। माशिमं ने विद्यार्थियों को बदले पैटर्न पर परीक्षाओं की तैयारी कराने के लिए सैंपल पेपर वेबसाइट पर अपलोड कर दिए हैं। स्कूलों में सैंपल पेपर से तैयारी कराई जा रही है। साथ ही छमाही परीक्षा के बाद भी क्लास लगाकर तैयारी कराई जा रही है। गौरतलब है कि माशिमं बदले हुए पैटर्न पर इस बार परीक्षा लेगा। इसमें करीब 17 लाख विद्यार्थी शामिल होंगे। दरअसल, माशिमं जुलाई में सब्जेक्ट के चैप्टरों का समूह बनाकर अंक योजना जारी कर चुका है। परीक्षा की तैयारी के लिए मंडल द्वारा अपलोड किए गए सभी विषयों के सैंपल पेपर से स्कूलों में तैयारी कराई जा रही है। फिलहाल नौवीं से 12वीं तक छमाही परीक्षाएं चल रही हैं। इसके अलावा 10वीं व 12वीं की अतिरिक्त कक्षाएं लगाकर सैंपल पेपर से तैयारी कराई जा रही है।माशिमं की 10वीं व 12वीं परीक्षा में पिछले साल तक विषयवार अध्यायों के अनुसार अंक योजना निर्धारित की गई थी। इसमें बताया गया था कि किस विषय के कौन-से चैप्टर से कितने अंक के प्रश्र प्रश्नपत्र में आएंगे, लेकिन इस बार इसमें बदलाव किया गया है। वर्ष 2023-24 की परीक्षा में विभिन्न विषयों के अंतर्गत अध्यायों का समूह बनाया गया है। राजधानी के कई स्कूलों में रविवार और त्योहार के दिन भी अतिरिक्त कक्षाएं लगाईं जा रही हैं। सीएम राइज स्कूलों में कमजोर विद्यार्थियों को चयनित कर उनकी जिम्मेदारी शिक्षकों को अलग से दी गई है। इस बारे में  निशातपुरा स्कूल के प्राचार्य आरसी जैन का कहना है कि 10वीं व 12वीं के विद्यार्थियों की माशिमं की वेबसाइट पर अपलोड किए गए सभी विषयों के सैंपल पेपर से तैयारी कराई जा रही है। इसके अलावा अतिरिक्त कक्षाएं भी लगाई जा रही हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments