Wednesday, February 21, 2024
Homeराज्‍यमध्यप्रदेशपीएम मोदी ने बताई तीन राज्यों में नए CM बनाने की वजह

पीएम मोदी ने बताई तीन राज्यों में नए CM बनाने की वजह

पीएम मोदी : मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बंपर जीत के बाद बीजेपी ने एक बड़ा फैसला लिया और अपने पुराने मुख्यमंत्री चेहरों को आगे न लाते हुए तीनों राज्यों में नए सीएम नियुक्त किए। बीजेपी ने नई परिपाटी को बरकरार रखते हुए मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में नए सीएम पदों के चेहरों का एलान कर दिया है। शिवराज सिंह चौहान, वसुंधरा राजे और रमन सिंह जैसे दिग्गज नेताओं को चुनने की बजाय पार्टी ने मोहन यादव, भजन लाल शर्मा और विष्णु देव साय को मुख्यमंत्री के पद दिए हैं। बीजेपी ने इसके अलावा मध्य प्रदेश और राजस्थान में दो-दो डिप्टी सीएम भी बनाए हैं। बीजेपी के इन चेहरों के चयन को 2024 के लिए उसकी बड़ी रणनीति का अहम हिस्सा माना जा रहा है।
बीजेपी ने चुनाव बिना सीएम फेस के ही लड़ा और आखिर तक किसी को अंदाजा भी नहीं लगने दिया कि राज्यों की कमान किसके हाथ में सौंपी जाएगी? हर बार के चुनाव में जनता अंदाजा लगा सकती थी कि पार्टी किसे मुख्यमंत्री घोषित करेगी, लेकिन इस बार यह बता पाना लगभग असंभव था। वहीं, नए और आम जनता से अनजान चेहरों को आगे लाना बीजेपी की एक बहुत बड़ी रणनीति मानी जा रही है, जिसके तहत शायद मिशन-2024 भी कवर हो।

लोकसभा चुनाव की तैयारी

हालांकि, सवाल यह उठता है कि तीनों राज्यों में अचानक नए चेहरे लाना क्या लोकसभा चुनाव की तैयारी है या इसके पीछे कोई और राजनीति भी छुपी है? इस सवाल का जवाब खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिया है। मीडिया से बातचीत करते हुए पीएम मोदी ने बताया (और हम कोट कर रहे हैं), ‘हमारे देश का दुर्भाग्य रहा है कि जो लोग अपनी वाणी, बुद्धि और व्यक्तित्व से सामाजिक जीवन पर प्रभाव डालते हैं, उनमें से एक बहुत बड़ा तबका घिसी पिटी और बंद मानसिकता में फंसा है। ये केवल पॉलिटिक्स तक सीमित नहीं है बल्कि हर फील्ड में देखने को मिलता है। बिजनस सेक्टर की ही बात कर लें तो जो भी बड़ा नाम हो या जिसने अपनी ब्रांडिंग अच्छे से की हो, मीडिया की नजरों में भी वही रहता है। बाकी मेहनती और कर्मठ लोगों पर किसी का ध्यान नहीं जाता, भले ही वो कितना भी अच्छा काम करते हों।’

‘नए नहीं हैं सीएम चेहरे, पुराने अनुभवी नेता हैं’

वहीं, पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘यही चीज राजनीति के क्षेत्र में भी हेती है। कई दशकों से सिर्फ कुछ ही परिवार ऐसे हैं, जिन पर मीडिया का ध्यान है। इस वजह से दूसरे लोगों की प्रतिभा पर कोई बात नहीं होती। यही वजह है कि जनता और मीडिया को वे लोग नए लगने लगते हैं जबकि ऐसा नहीं है। वे लोग भी पुराने और अनुभवी हैं, जिन्होंने बहुत लंबी तपस्या की है।’ पीएम मोदी की इस बात से समझा जा सकता है कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में पुराने चेहरों को हटा कर नए चेहरे क्यों लाए गए हैं।

जानकारों का मानना है कि पार्टी ने इन पदों पर जो लोग चुने हैं उसके ज़रिए जातिगत समीकरणों को भी साधने की कोशिश की है, ताकि विपक्ष जाति को लोकसभा चुनाव में हथियार की तरह इस्तेमाल न कर सके।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments